सवाल 4- मैं आलस्य से कैसे छुटकारा पा सकता हूँ  ?

0

मैं आलस्य से कैसे छुटकारा पा सकता हूँ ?

भाई ये सवाल जिसने भी पुछा है, ये बात तो तय है की वो आलस से परेशान जरूर होगा और उसके आलस की वजह से वो कही न कही अपने जीवन में आगे नहीं बढ़ पा रहा होगा | खैर जब इतनी हिम्मत दिखाई है, ये सवाल पूछने की तो हम भी ये चाहेंगे की हमारा पुरा उत्तर पढ़ें।

अब आगे पढ़िए,

आलस एक उस निद्रा की अवस्था हो सकती है जिसमें हमारे मस्तिष्क में कोई कार्य करने की उमंग नहीं होती है। इस स्थिति में शरीर को भी कुछ करने की शक्ति नहीं दिखती है, जबकि हमने अपना खाना ठीक से खाया हुआ भी होता है।

हम दूध का उदाहरण ले सकते है, यदि हम ये सोचें कि इस दूध में मक्खन भी है परन्तु मक्खन प्राप्त करने के लिए उसे दही बना के मथना पड़ेगा, उसके बिना मक्खन केवल स्वप्न में ही हम देख सकते हैं।

इसी प्रकार से हमारे शरीर में सब ऊर्जा वर्तमान हैं लेकिन उसको मस्तिष्क ने गतिमान नहीं किया है।

यदि आलसी को ठन्डे पानी से नहला दें तो बिजली के शॉक की भांति काम करेगा और आलस भाग जाएगा। ऐस बिजली रूपी करंट एक बार काफी है, आवश्यक है कि इस क्षण का सही प्रयोग करके अपने मन में गति लाना जिससे हाथ पैर चलने की इच्छा जागृत हो जाये और फिर दिमाग दौड़ने लगे और फिर आलस भाग जाए।

यदि हम संतों या मुनिओं के मन के बारे में सोंचे जिनको समाधी में जाना भी आता हो वो मनुष्य मन को तो स्थिर रखते हैं, कुछ और ऊर्जा नहीं खर्च करते है लेकिन उनका मन चैतन्य रहता है जो कि बिलकुल इस के विपरीत है। हमें आलस दूर रखने के लिए अपने दिनचर्या को सही रखना पड़ता है जिसमे समय पर जागना, समय पर सोना, कुछ शारीरिक क्रिया करना, समय से नहाना, समय से शुद्ध भोजन खाना, फिर अपने काम में जा कर ध्यान लगा कर पूरा करना आवश्यक है।

इस प्रकार से हम भौतिक (शारीरिक) मानसिक ऊर्जा का तो प्रयोग कर लेते हैं जिसको हमें उचित खान पान से वापस हासिल करना होता है।

इससे ऊपर एक प्रकार की और ऊर्जा है जो कि सबसे प्रभावकारी है और आलस से व्यक्ति को दूर रख सकती है और वो है आत्मीय ऊर्जा (spiritual)। ये हमें भक्ति भावना से प्राप्त होती है और इससे अनेक बेकार ख्याल जो दिमाग में आते रहते हैं, दूर हो जाते हैं।

इसलिए मन को काबू रखना बहुत बड़ी कला है क्योंकि दूसरी और जो कुछ नहीं करना चाहता है लेकिन फिर भी उसका दिमाग बेफिज़ूल दौड़ता रहता है जिससे वो प्राप्त ऊर्जा बेकार करता है अपनी जानकारी के बिना जिसका नतीजा अच्छा नहीं हो सकता है।

कुछ चीजे बता रहे है एक लाइन में उनको करके देखिये उससे आलस आपका चला जाएगा | बस आप ये चीजे अपना लीजिए और हां अगर आपका आलस चला जाए तो हमे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर बता दीजियेगा हम समझ जाएंगे की आलास चला गया आपका|

  1. नींद पूरी करें – नींद पूरी करें, मनुष्य को रोजाना 8-10 घंटे की नींद लेना चाहिए। नींद पूरी न होने पर आलस की समस्या उत्पन्न हो सकती है।

  1. सकारात्मक सोच – अनावश्यक तनाव से बचने का प्रयास करना चाहिए। मतलब जबरदस्ती की टेंशन न ले | सकारात्मक सोच रखना, किसी भी काम के दौरान खुद को सकारात्मक बनाए रखें। नकारात्मक सोच मनुष्य को आलस की ओर खींचती है।

  1. सुबह का व्यायाम – दिन की शुरुआत आप सैर करने या व्यायाम करने से कर सकते है, इससे पूरे दिन ताजगी बनी रहेगी। सुबह-सुबह व्यायाम करने से आलस की समस्या से छुटकारा मिल सकता है।                                                                                                                       
  2. सुबह का नाश्ता जरुरी है, इससे हमें ऊर्जा मिलती है।

  1. गलत खानपान – संतुलित आहार करें। भारी खाने और जंक फूड से बचें। गलत खानपान की वजह से भी आलस की समस्या आ सकती है। इसलिए विटामिन युक्त भोजन खाये, खाना खाने के तुरंत बाद बैठें या सोए नहीं बल्कि 5 मिनट थोड़ा इधर उधर टहले।

  1. काम को समय पर पूरा करने की कोशिश करें। काम को व्यवस्थित तरीके से करने की कोशिश करें।

  1. समय पर सोने और जागने की कोशिश करें।

 

  1. सफल लोगों के बारे में सोचे – अगर आप कोई बड़ा काम कर रहे है और आलस आए तो किसी सफल (Successful) व्यक्ति में बारे सोचे।

  1. प्रेरणादायक कहानियां पढ़ें – आलस आने पर महापुरुषों की, सफल लोगों की Motivational कहानियां पढ़े। उनसे हमारा मन Motivate होता है।

अपने मन में ठान लो तो कुछ भी हो सकता हैं। आलस बीमारी नही मन की अपनी कहानी होती है। यदि हम अधिक ही आलसी हो गए तो या फिर आलस की समस्या ज्यादा बढ़ती है तो हम किसी बीमारी के शिकार भी हो सकते हैं। इसीलिए आलस की समस्या से छुटकारा पाना बहुत जरुरी है।

उपरोक्त तरीकों से हम आलस की समस्या से छुटकारा पा सकते है। आलस भगाने के और भी कई तरीके है जैसे

  • आलस आने पर चाय अथवा कॉफी पिने से भी आलस की समस्या से छुटकारा मिल सकता है।
  • नींद या आलस आने पर पानी से चेहरा धोने से भी आलस की समस्या से छुटकारा मिल सकता है।
  • थोडी देर इधर उधर की बातें करने से भी आलस की समस्या से छुटकारा मिल सकता है।

आशा है कि आपको अपना जवाब मिल गया होगा | आप लोग ऐसे हे हमसे सवाल पूछते रहिए हम उनका जवाब खोज कर आप को देंगे | आप कमेंट बॉक्स में कमेंट करके हमसे अपने सवाल पूछ सकते है |सवाल पुछने के लिए आप का धन्यवाद