पूजा करते समय इन बातों का रखे खास ध्यान

0
पूजा करते समय इन बातों का रखे खास ध्यान

किसी भी शुभ काम को शुरू करने से पहले या फिर किसी भी अच्छे काम को शुरू करने से पहले लोग भगवान का नाम लेते है या फिर अपने घरो में पूजा पाठ करवाते है. ताकि वह अपने उस काम को अच्छे से कर ले जो वो करना चाहते है. किसी भी शुभ कार्य के लिए पूजा की जाती है और पूजा करते समय हमे कुछ खास बातों का ध्यान रखाना चाहिए. जिससे हमेशा घर में सुख व शान्ति बने रहै.


पूजा पाठ करने से पहले ध्यान रखे ये बाते
घर में हमेशा पूर्व या उत्तर दिशा में ही मंदिर को बनाये यह शुभ माना जाता है, साथ ही घर के मंदिर को लकड़ी का ही बनवाना चाहिए. वैसे तो कहा जाता है कि घर के आस -पास ही गंदगी नही होनी चाहिए, लेकिन जिस जगह आपका मंदिर है ध्यान रहे कि वहां हमेशा साफ और सुथरा होना चाहिए.


घर के मंदिर का मुख्य रंग हल्का पीला या नारंगी हो और घर के मंदिर में हल्की पीली लाइट का प्रयोग करना चाहिए. मंदिर में गहरे नीले रंग का प्रयोग ना करें. इसके साथ ही यह भी ध्यान रखे कि घर के मंदिर में हलके पीले रंग का या लाल रंग का वस्त्र ही बिछायें. आप अपने मंदिर में भगवान गणपति और महालक्ष्मी की मूर्ति अवश्य ही रखे, साथ ही आप अपने मंदिर में कुल देवता की मूर्ती या फोटो अवश्य ही रखे. ताबे के लोटे में गंगा जल भरकर रखे.


अपने घर का मंदिर बनावाते समय सावधानी रखे. घ्यान रहे कि मंदिर को दक्षिण पश्चिम दिशा में ना बनावायें. मंदिर के आसपास कोई गंदगी और जूते चप्पल ना हो. हमेशा ध्यना रहे कि भजन कीर्तन हमेशा पूर्व या उत्तर दिशा की तरफ ही मुंह करके किया जाए तो सर्वोत्तम रहता है. अन्य किसी दिशा में भजन कीर्तन करने का कोई फायदा नही होत या यह कहे की मन में उत्साह नहीं ला पाता. जिस भी जिस देवी देवता का भजन कर रहे हो उनका चित्र अपने सामने जरूर रखे, गाय के घी का दीपक और धूप अवश्य जलाएं जल का पात्र भी रखें.


भजन कीर्तन करते समय इधर-उधर की बातों में ध्यान ना दें. हमेशा शुद्ध और साफ सुथरे चीजों को ही प्रयोग में लाए, दीपक जलाते समय कलावे की बाती का ही उपयोग करना चाहिए
यदि आपके घर में पूजा है, तो आप श्वेत गुलाबी या हल्के पीले वस्त्र पहनकर ही पूजा करे, साथ ही अपने आसन का खास ध्यान रखे, लाल पीले आसन पर बैठकर ही पूजा के मंत्रों का जाप करे यह तो सभी जानते है कि अगर घर में कोई भी काम होता है तो हम सबसे पहले भगवान गणपति व गुरु और अपने इष्ट का ध्यान करते है. उसके बाद ही ही कोई अन्य मंत्र या फिर कोई भी जाप किया जाता है

यह भी पढ़ें : जानिए कहां- कहां पर स्थित है शनिदेव के 5 बडे धाम


अगर आपके घर में कलह या बीमारी, धन की कमी , पति और पत्नी में झगड़ा या फिर घर में किसी भी नकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश हो तो इस बात का रखे ध्यान


घर में यदि कीसी भी बात को लेकर बिना वजह कलेश होता है तो आप रोज सुबह गायत्री मंत्र का जाप 108 बार कर सकते है, जिससे आपकी परेशानी दूर हो जाएगी.


घर में यदि कोई भी बीमार हो या फिर हमेशा बिमार रहता है तो वे महामृत्युंजय मंत्र का जाप करें और शिवलिंग पर कच्चा दूध चढ़ाएं.


यदि आपके घर में धन की कमी हो रही है, तो आप श्री नारायण भगवान को पीले पुष्प चढ़ाएं.
घर में आपस में पति पत्नी में विवाद होते रहते है. अगर विवाद खत्म ही नही हो रहे हो तो आप संयुक्त रूप से शिव पार्वती का पूजन करें.


घर में इन सभी चीजे होने की सबसे बड़ी वजह होती है घर में नकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश करना, उसे रोकने के लिए आप अपने दरवाजे पर आम के पत्ते का इस्तेमाल करे.