कैब ड्राइवर के पास कॉन्डम न होने पर काटे जा सकते है चालान

0
cab
कैब ड्राइवर के पास कॉन्डम न होने पर काटे जा सकते है चालान

दिल्ली में बड़ी संख्यां में ऐसे कैब ड्राइवर हैं, जो फर्स्ट ऐड बॉक्स में कॉन्डम रखकर चलते है. उनका मानना है कि यदि वह ऐसा नहीं करते हैं तो इसके लिए भी उनका चालान कट सकता है. लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि एक कैब ड्राइवर को अब कॉन्डम रखना पडेगा, नहीं तो इसके लिए भी उनका चलान कटा जा सकता है.

बता दें कि इसकी जानकारी कैब ड्राइवर घर्मेंद्र ने दी है. उसने कहा कि जेएनयू से नेल्सन मंडेला मार्ग पर मुड़ते ही कैब ड्राइवर धर्मेद्र को पुलिस रोकती है. कैब ड्राइवर ने सीट बेल्ट लगा रखी थी और अपनी ड्रेस पहनी हुई थी. साथ ही उसने अपने पास फर्स्ट ऐड बॉक्स में कॉन्डम भी रखे हुए थे.
साथ ही धर्मेंद्र ने यह भी बताया कि हाल ही में उनका चालान कॉन्डम न रखने के लिए भी हुआ था, तब से वह काफी सतर्क रहते हैं. हालांकि उन्हें चालान की जो रसीद दी गई थी, वह ओवरस्पीड के लिए थी. दिल्ली में बड़ी संख्या में ऐसे कैब ड्राइवर हैं, जो फर्स्ट ऐड बॉक्स में कॉन्डम रखकर चलते हैं.

कैब ड्राइवर रमेश कहते हैं कि मैंने सभी से ऐसा सुना है कि कॉन्डम रखना जरूरी है. इसलिए मैं कम से कम एक तो हमेशा ही रखता हूं. वह कहते हैं कि आज तक ट्रैफिक पुलिसकर्मियों की ओर से इस बारे में नहीं पूछा गया। हालांकि फिटनेस टेस्ट के दौरान कई बार पूछा गया है कि गाड़ी में उनके पास कॉन्डम रखे हैं या नहीं.

यह भी पढ़ें : दिल्ली: बिना टिकट के बस यात्रा की तो लगेगा इतना जुर्माना, जाने-

बता दें कि दिल्ली मोटर वीइकल रूल्स, 1993 और सेंट्रल मोटर वीइकल रूल्स, 1989 में भी इसका कोई जिक्र नहीं है.