हवाई जहाज में तबियत ख़राब होने पर भारतीय की मदद से इनकार किया पाकिस्तान नें

0

पाकिस्तान नें एक बार फिर इंसानियत की हद पार कर दी। दरअसल में तुक्री एयरलाइंस के एक विमान में हवाई सफ़र कर रहा एक भारतीय की अचानक तबीयत ख़राब हो गई जिसके बाद विमान की इस्लामाबाद में इमरजेंसी लैंडिंग करानी पडी। लेकिन पाकिस्तानी अधिकारियों नें उस भारतीय की मदद करने से इनकार कर दिया। विमान के अधिकारियों नें जब पाकिस्तानी अधिकारियों से मदद न करने की वजह पुछी तो उन्होंने कहा की पाकिस्तान के भारत से सबंध ख़राब है जिसके वजह से भारतीय की मदद नहीं की गई। बाद में तुक्री एयरलाइंस का विमान वापस दिल्ली आया और तब जाके युवक को सात घंटे बाद इलाज मिल पाया।

यह भी पढ़ें :  पाकिस्तान में पहली बार चुनाव लड़ेंगी एक हिन्दू महिला

दरअसल तुर्की एयरलाइंस विमान में बीमार हुआ विपिन नाम का युवक गुरुग्राम की एक बीमा कंपनी में सेल्म मैनेजर की पोस्ट पर तैनात था। कंपनी नें कुछ लोगों को तुक्री घुमने के लिए भेजा था लेकिन बीच में ही विपिन की तबीयत अचानक ख़राब हो गई। जिसके बाद विमान की पाकिस्तान में इमेरजेंसी लैंडिंग करानी पड़ी।

मेडिकल रिपोर्ट में पाया गया की विपिन नें विमान में शराब का सेवन किया था जिसके बाद उसे उल्टी हुई तभी विमान नें पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में उतरने की योजना बनाई। इससे पहले विपिन की तबीयत ख़राब होने पर उसके दोस्तों ने पायलट और विमान के क्रू मेंबरों को घटना के बारे में जानकारी दी। बाद में लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से पाकिस्तान के इस रवैए की शिकायत की।

यह भी पढ़ें :  पाकिस्तान चुनाव में आतंकी हाफ़िज सईद के आरमां आँसुओं में बह गए

भारत पाकिस्तानी मरीजों की मदद करता रहा है

लेकिन मरीजों की मदद करने के मामले में भारत नें हमेशा पाकिस्तान से ज्यादा बडा दिल दिखाया हैं। भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज पाकिस्तानी मरीजों की ट्विटर पर खूब मदद करती हैं। पाकिस्तान से हज़ारों की तादाद में मरीज हर साल भारत में अपना इलाज करवाने के लिए आते हैं। पाकिस्तान में अच्छी चिकित्सा सुविधाएं नहीं होने के कारण पाकिस्तान के मरीजों को भारत आना पड़ता हैं। लेकिन पाकिस्तान के इस रवैए नें करोड़ों भारतीयों के दिलों को ठेस पहुँचाईं हैं।

यह भी पढ़ें :  भारत की जासूसी के लिए पाकिस्तान ने अंतरिक्ष में छोड़े दो सैटेलाइट, चीन ने की मदद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × three =