कश्मीर के बाद अब इस बड़े राज्य में टूट सकता है बीजेपी का गठबंधन, पढ़े पूरी खबर

1

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर में जहां पीडीपी के साथ बीजेपी ने अपना गठबंधन तोड़ लिया है. बीते दिन महबूबा मुफ्ती की सरकार को भाजपा पार्टी की तरफ से एक बहुत बड़ा झटका मिला है. बीजेपी ने जम्मू-कश्मीर सरकार से अपना समर्थन वापिस लिया है. अब राजनीतिक गलियारों में सियासी घमासान खड़ा हो चुका है. आगामी चुनाव को लेकर एक साल से भी कम वक्त का समय बचा है. तो वहीं माना यह भी जा रहा है कि भाजपा पार्टी के नेता अमित शाह ने इस कदम को बड़ी सोच समझ का उठाया है.

राजनीति विश्लेषकों के अनुसार, जम्मू-कश्मीर के बाद अब भारतीय जनता पार्टी बिहार में भी कुछ ऐसा ही निर्णय लेने वाली है. क्योंकि हाल ही में कैराना उपचुनाव में बीजेपी को बुरी तरह से हार का सामना करना पड़ा था. ऐसे में बीजेपी के पास अन्य विकल्प यही है कि वो अपने रणनीति दोबारा बनाए. यही वजह है कि भाजपा नेतृत्व अपने सहयोगी दलों के साथ मुखर हो उठा है.

भाजपा और जेडीयू का गठबंधन अब खतरे में

हालांकि राजनितिक जानकारों के मुताबिक, बीजेपी आलाकमान जम्मू-कश्मीर जैसा फैसला एक शायद फिर ले सकता है, इस बार यह फैसला बिहार में लेने की आशंका है. आपको बता दें कि बिहार में जेडीयू ने एक साल पहले ही एनडीए में दोबारा से वापसी की थी. शुरआत में भाजपा इस को एक फायदे के रूप में देखकर चल रही थी, लेकिन अब स्थिति कुछ ओर हो दिख रही है. इसका नतीजा है बिहार में बीजेपी और जेडीयू वाली गठबंधन सरकार को जोकीहाट विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में मिली करारी शिकस्त है. इस चुनाव को जीतना जेडीयू के लिए काफी अहम था क्योंकि पिछले 20 सालों से पार्टी का दबदबा बना हुआ था.

सीटों को लेकर तनातनी

इसके बवजूद आने वाले 2019 के लोकसभा चुनाव को लेकर दोनों पार्टियों के बीच सीटों के बंटवारे को लेकर तनाव का वातावरण बना हुआ है. जो की गठबंधन में रोड़ा साबित हो रही है. जानकारी के अनुसार, दोनों दलों के बीच सीटों के बंटवारे को लेकर घमासान छिड़ी नजर आ रही है. भाजपा पार्टी के नेता राजेंद्र सिंह के कहना है कि पार्टी उन सभी 22 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारने के विचार में है जहां उन्हें पिछले आम चुनाव में उसे सफलता मिली थी.

 

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

18 + 18 =