वो कौन से करियर है जो भारतीय महिलाओं के लिए बेहतर है

0

महिला सशक्तिकरण की जब भी बात आती है तो हमेशा यही देखा जाता है की कैसे उन्हें ताकतवर बनाया जाए। उन्हीं में से एक है रोजगार। कैसे उन्हें हम शानदार रोजगार दे की वह अपनी जीवन में किसी भी समस्या का सामना बढ़ी आसानी से कर सकें। आइए आज हम आपको बताते है वो रोजगार जो महिलाओं के लिए है सबसे बढ़िया।

वो कौन से करियर है जो भारतीय महिलाओं के लिए बेहतर है

शिक्षिका

अध्यपिका बनना किसी भी महिला के लिए सबसे अच्छा करियर माना जाता है। क्योंकि इसमें महिलाओं को ज्यादा दौड-भाग नहीं करनी पड़ती है। इस करियर में महिलाएँ सुबह स्कूल में पढ़ाने जाती है और दोपहर को पढ़ाकर वापस अपने घर आकर घर के और काम भी कर पाती है। जबकि दूसरी नौकरियों में महिलाओं को इस तरह का काम नहीं मिलता है।

वो कौन से करियर है जो भारतीय महिलाओं के लिए बेहतर है

चिकित्सा

अपने बेटे को इंजीनियरिंग पढ़ाना और अपनी बेटियों को मेडिकल पढ़ाना भारतीयों का सदियों का सपना है। अगर लड़की अच्छी पढ़ाई की तो उससे डाक्टरी ( एमबीबीएस) पढ़ाने में हम भारतीय आगे। ऊपर से भारतीय महिलाएं अपने यौन रोग या प्रसव आदि के लिए महिला गाइनोकोलॉजिस्ट पर ज्यादा निर्भर करते हैं। महिलाएं इसीलिए भारत में डॉक्टरी क्षेत्र में आगे है।

फ्रंट कार्यालय कर्मचारी

आप नें बहुत सी कंपनी और होटलों में महिलाओं को देखा होगा। वह हसते हुए लोगों का स्वागत करती है। फ्रंट कार्यालय में महिलाओं को इसी तरह का काम दिया जाता है। जैसे रिसेप्शनिस्ट, एचआर आदि का कार्य सौंपा जाता है।

वो कौन से करियर है जो भारतीय महिलाओं के लिए बेहतर है
वो कौन से करियर है जो भारतीय महिलाओं के लिए बेहतर है

सरकारी नौकरी

भारत में हमेशा से ही हर किसी की सरकारी नौकरी पाने की इच्छा रहती है और शायद भारत में कोई भी इंसान ऐसा नहीं होगा जिसे सरकारी नौकरी पसंद नही होगी। महिलाओं के लिए सरकारी नौकरी एक वरदान की तरह होती है। सरकारी नौकरी में महिलाओं को कभी भी दबाव और परेशानी नहीं झेलनी पड़ती है जो अक्सर वे प्राइवेट नौकरियों में झेलती है।

वो कौन से करियर है जो भारतीय महिलाओं के लिए बेहतर है

सॉफ्टवेयर

आजकल सॉफ्टवेयर क्षेत्र में महिलाएं बढ़ी संख्या में प्रवेश कर रही है। खास कर नोनकोर जैसे की आईटी, कंप्यूटर, साइंस, इलेक्ट्रानिक्स आदि पढ़े हुए प्रोद्योगिकी छात्राओं को सॉफ्टवेयर में आसानी से नौकरी मिलरही है। बहुत सारे कम्पनी लड़कियों को ज्यादा प्राथमिकता देते, क्यों की वे तुरंत अपनी कम्पनी बदलते नहीं, और काम भी पूरी मेहनत से करते हैं।