पाकिस्तान अपने ही लोगों पर ढा रहा है जुल्म

0
pakistan
पाकिस्तान अपने ही लोगों पर ढा रहा है जुल्म

बलूचिस्तान पाक का एक हिस्सा होने के बावजूद वहां के लोगों को चुन चुनकर मौत के घाट उतारा जा रहा है उनके घरों और गांवों को बूरी तरह से जलाया जा रहा है. पाक की इन हरकतों को देखकर साफ अंदाजा लगाया जा सकता है कि पाक को कशमीर के मुसलमानों से कितनी हमदर्दी है. इतना ही नहीं अब बलूचिस्तान के लोग भी पाक से आजादी चाहते है.

बात दें कि पाकिस्तान के अंदर ही बलूचिस्तान के लोगों मारा जा रहा है. उनके घरों को जलाकर उनके खज़ानों को भी लूटा जा रहा है. पाकिस्तान के अंदर बलूचिस्तान के लोगों पर काफी जुर्म किया जा रहा है.

कश्मीर की तरह ही यहां पर लोग मुसलमान है, लेकिन जितना दर्द पाकिस्तानी सरकार और सेना के दिल में कश्मीरियों के लिए है. उतनी ही नफरत पाकिस्तान में रहने वाले इन बलूचियों के लिए है. बलूचिस्तान पाक के अंदर ही आता है, लेकिन पाक ने उन्हें कभी अपने देश का हिस्सा माना ही नहीं है.

बलूचिस्तन के लोगों पर पाक का जुल्मों सितम जारी है यहां पर बेगुनाह लोगों को उठा लिया जाता है और आए दिन यहां धमाके कर दिए जाते है. इतना ही नहीं कुछ लोगों को तो यहां पर जिन्दा जला दिया जाता है. इतना कुछ होने के बाद लोगों के मन में सवाल उठान तो एक आम बात है, लेकिन सवाल ये है कि आखिर मुसमान होने के बावजूद भी पाकिस्तान के आर्मी इन पर क्यों इतना जुल्म कर रहे है. तो इसका जवाब ये है कि बलूचियों को आजादी के बाद से ही जबरन पाक का हिस्सा बना दिया गया था. क्योंकि उस वक्त पाक ने इसकी मांग की थी.

बताते चले कि ये पाकिस्तान के साथ रहना नहीं चाहते थे. क्योंकि इनसे उनकी सभ्यता मेल नहीं खाती मगर फिर भी इन्हें पाकिस्तान के साथ रहने के लिए जबरन मजबूर किया जा गया था और अभी भी किया जा रहा है. पाक के जुल्म से यह इस कदर तंग आ चुके है कि अब इन्हें पाकिस्तान से छुटकारा चाहिए. बलूचिस्तान के अवारन और सिब्बी इलाकों में नरसंहार के बारे में देखने को मिल ही चुका है.

यह भी पढ़ें : पाकिस्तान में एक और हिंदू लड़की को अगवा कर जबरन करवाई शादी

बलूचिस्तान के जिन इलाकों में पाकिस्तानी आर्मी तबाही मचाती है. उनमें अवारन, सिब्बी, हरनई, मारवार, पीर इस्माइल, जलादी और बाबर कच्छ शामिल है. यहां पर अब तक 20-25 हज़ार बेगुनाह बलूचिस्तानियों का बेरहमी से कत्ल किया जा चुका है, साथ ही हज़ारों लाखों की तादद में लोगो को अगवा किया गया हैजो अभी तक अपने घर नहीं लौटे है. इसी बात से पाक की हैवानियत का अंदाजा बखुबी लगाया जा सकता है.