जानिए इस आइलैंड में कदम-कदम पर क्यों है मौत का खतरा

0
जानिए इस आइलैंड में कदम-कदम पर क्यों है मौत का खतरा

ब्राजील दूनिया का पांचवा सबसे बड़ा देश है. ब्राज़ील के साओ पाउलो प्रान्त की समुद्री सीमा से 33 किमी दूरी पर स्थित एक द्वीप यानी आइलैंड का नाम इल्हा दे क्वेइमाडा ग्रैंड है. बता दें कि इस खतारनाक आइलैंड को स्नेक आइलैंड भी कहा जाता है. यहीं नही यहां पर कदम कदम पर मौत का खतरा बना रहता है.


यह सभी जानना चहते होगें कि इस स्नेक आइलैंड में ऐसा क्या है? जिससे हमेशा लोगों की जान जाने का खतरा रहता है तो आईए हम आपको बताते है कि इस आइलैंड में क्यों इतना खतरा है? लोग यहां जाने से इतना क्यों डरते है.? स्नेक आइलैंड के नाम से ही लोगों को पता लग गया होगा कि यहां पर सांप पाये जाते है और यहां पर इनकी संख्या बहुत अधिक है.


इतना ही नहीं यहां पर हर एक वर्ग मीटर में पांच सांप रहते हैं. यहाँ पर 4,000 प्रकार के सांप पाए जाते हैं. इस आइलैंड का क्षेत्र लगभग 4 लाख 30 हज़ार वर्ग मीटर हैं. इस आइलैंड पर करीब 20 लाख पिट वाइपर प्रजाति के जहरीले सुनहरी भालाग्र सांप रहते है.


जिससे यहां पर जाना खतरनाक हो सकता है ऐसा कहा जाता है कि यहां पर ऐसे हाल है कि कई जगह पर तो ये ऐसे दिखते हैं, जैसे कोई सिंग बेड बिछा हो. जिससे इस द्वीप को गोल्डन लांसहेड सांपों का घर भी कहा जाता है. आज से लगभग 11,000 साल पहले अस्तित्व में आए आइलैंड पर लोग जान हथेली पर लेकर जाते हैं. बच्‍चे तो यहां के नाम से घबराते हैं.


इतना ही नही ये सांप इतने जहरीले हैं कि इनके काटने के 5 से 10 मिनट के अंदर ही व्यक्ति की मौत हो जाती है. वहीं इस जगह पर इतने सारे सांप कैसे व कब और कहां से आए है इस बात का पता अभी तक नही चल पाया है. आप कह सकते हो कि इन सांपो ने इस आईलैंड पर अपना कब्जा किया हुआ है. अभी तक जो भी वैज्ञानिक टीम यहां जाते है वह यहां पर सुरक्षित जगह पर भी फूंक-फूंक कर कदम रखते है.

यह भी पढ़े : तकनीकी खराबी की वजह से इसरो ने टाली चंद्रयान 2 की लॉन्चिंग