पुरुलिया की रैली में PM Modi ने बताया ममता बनर्जी की TMC का फुल फॉर्म, कहा- इसका मतलब ट्रांसफर माय कमीशन

503
पुरुलिया की रैली में PM Modi ने बताया ममता बनर्जी की TMC का फुल फॉर्म, कहा- इसका मतलब ट्रांसफर माय कमीशन

पुरुलिया: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने बुधवार को पश्चिम बंगाल के पुरुलिया में चुनावी जनसभा (PM Modi speech from Purulia) को संबोधित किया और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के अलावा तृणमूल कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. इस दौरान पीएम मोदी ने ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी (TMC) का फुल फॉर्म बताया और कहा कि इसका मतलब होता है- ट्रांसफर माय कमीशन.

पीएम मोदी ने बताया- DBT और TMC का मतलब

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘भाजपा की केंद्र सरकार की नीति है- DBT- यानि ‘डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर’. पश्चिम बंगाल में दीदी सरकार की दुर्नीति है- TMC- यानि ‘ट्रांसफर माय कमीशन.’ उन्होंने आगे कहा, ‘आपका ये जोश, हर सिंडिकेट, हर टोलाबाज का होश उड़ा रहा है. दीदी को आपके जनधन खातों से डर लगता है. बंगाल में खुले करोड़ों जनधन खाते, आपका हक आपको ही मिले, इसकी गारंटी है. साथियों, आपकी ये गर्जना बताती है की दीदी सरकार जाने का काउंटडाउन शुरू हो चुका है.’

ये भी पढ़ें: भगवान शिव शंकर के पोते का क्या नाम था ?

‘क्या हालत बना दी है दीदी ने बंगाल की?’

रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, ‘क्या हालत बना दी है दीदी ने बंगाल की? क्राइम है, क्रिमिनल है, लेकिन जेल में नहीं है. माफिया हैं, घुसपैठिए हैं, लेकिन खुलेआम घूम रहे हैं. सिंडिकेट है, स्कैम है, लेकिन कार्रवाई नहीं होती है.’ उन्होंने कहा, ‘अभी कल रात ही 24 उत्तर परगना में दर्जन से ज्यादा जगहों पर बमबाजी हुई है. बीजेपी कार्यकर्ताओं को निशाना बनाया गया है. ये स्थिति ठीक नहीं है. ये बदले की हिंसा, ये अत्याचार, ये माफियाराज और नहीं चलेगा.’

सोनार बांग्ला का फिर से निर्माण करना है: पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा, ‘मैं बंगाल के लोगों को विश्वास दिलाता हूं, हर भाजपा कार्यकर्ता को विश्वास दिलाता हूं कि 2 मई को बीजेपी की सरकार बनने के बाद, हर अत्याचारी पर कानून के मुताबिक कार्रवाई होगी. बीजेपी की सरकार में कानून का राज फिर से स्थापित किया जाएगा.’ उन्होंने आगे कहा, ‘हम सब को मिलकर गुरुदेव रवीन्द्रनाथ ठाकुर, नेताजी सुभाष चन्द्र बोस, स्वामी विवेकानंद जैसे महान व्यक्तित्वों के सपनों के सोनार बांग्ला का फिर से निर्माण करना है. वो सोनार बांग्ला, जहां बंगाल के स्वर्णिम गौरव का समावेश होगा और आत्मनिर्भर का सामर्थ्य होगा.’

पीएम मोदी ने बताया कैसा होगा सोनार बांग्ला

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, वो सोनार बांग्ला जहां हर गरीब, मजदूर, आदिवासी, किसान भाई-बंधु एक सम्मानित जीवन जिएं. वो सोनार बांग्ला जहां की मां-बहन-बेटी सब सुरक्षित और भयमुक्त रहें. वो सोनार बांग्ला जहां के युवाओं के पास शिक्षा और रोजगार के भरपूर अवसर हों. वो सोनार बांग्ला जहां उद्योगों की कोई कमी न हो. वो सोनार बांग्ला जहां तोलाबाजी, कटमनी, सिंडिकेट जैसे भ्रष्टाचार के लिए कोई जगह न हो. वो सोनार बांग्ला जहां गुंडे-अपराधी, उग्रवादियों की जगह जेल में हो, सड़कों पर नहीं.’ उन्होंने कहा, ‘बंगाल के एक-एक व्यक्ति को याद रखना है. ये समय अपनी मातृभूमि के लिए कुछ कर गुजरने का है. ये दमनकारी और अत्याचारी शासन से बंगाल को मुक्त करने का समय है. ये अपने आदर्शों और विचारों के लिए पूरी ताकत लगा देने का समय है.’

टीएमसी के दिन अब गिनती के रह गए: प्रधानमंत्री

पीएम मोदी ने कहा, ‘पश्चिम बंगाल में टीएमसी के दिन अब गिनती के रह गए हैं और ये बात ममता दीदी भी अच्छी तरह समझ रही हैं. इसलिए वो कह रही हैं, खेला होबे. जब जनता की सेवा की प्रतिबद्धता हो, जब बंगाल के विकास के लिए दिन-रात एक करने का संकल्प हो, तो खेला नहीं खेला जाता, दीदी.’

पीएम मोदी बोले- दीदी खेला होबे नहीं विकास होबे

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘दीदी बोले खेला होबे. भाजपा बोले विकास होबे… दीदी बोले खेला होबे. भाजपा बोले विकास होबे, सोनार बांग्ला होबे. दीदी बोले खेला होबे. बीजेपी बोले चाकरी होबे, विकास होबे, शिक्षा होबे, हॉस्पिटल होबे, स्कूल होबे, सोनार बांग्ला होबे.’ उन्होंने आगे कहा, ’10 साल के तुष्टिकरण के बाद, लोगों पर लाठियां-डंडे चलवाने के बाद, अब ममता दीदी अचानक बदली-बदली सी दिख रही हैं. ये हृदय परिवर्तन नहीं है, ये हारने का डर है. ये बंगाल की जनता की नाराजगी है, जो दीदी से ये सब करवा रही है.’

Source link