भगवान ने सारी सृष्टि बनाई फिर भी सभी भगवान ने सिर्फ भारत में ही जन्म क्यों लिया ?

0
297
भगवान ने सारी सृष्टि बनाई फिर भी सभी भगवान ने सिर्फ भारत में ही जन्म क्यों लिया ? ( God created the whole creation, yet why did all the Gods take birth only in India? )
भगवान ने सारी सृष्टि बनाई फिर भी सभी भगवान ने सिर्फ भारत में ही जन्म क्यों लिया ? ( God created the whole creation, yet why did all the Gods take birth only in India? )

भगवान ने सारी सृष्टि बनाई फिर भी सभी भगवान ने सिर्फ भारत में ही जन्म क्यों लिया ?

भगवान – भारत एक धार्मिक देश है. जिसमें विभिन्न धर्मों के लोग रहते हैं. ऐसा नहीं है कि भारत में वर्तमान समय में ही लोग धार्मिक हुए हैं. भारत का इतिहास जहां से शुरू होता है , वहां से हमें धर्म के प्रमाण देखने को मिलते हैं. अगर हडप्पा सभ्यता की बात करें, तो पूर्व हड्प्पाई स्थलों की. हमें धर्म और पूजा से संबंधित प्रमाण स्पष्टतौर पर दिखाई देते हैं. इसी कारण लोगों के मन में भगवान से संबंधित कई तरह के सवाल होते हैं.

भगवान से संबंधित सवालों की जिज्ञासा आस्तिक लोगों में भी होती है तथा नास्तिक लोगों में भी. इसी से संबंधित एक सवाल जो लोगों के मन में आता है कि भगवान ने सारी सृष्टि बनाई फिर भी सभी भगवान ने सिर्फ भारत में ही जन्म क्यों लिया ? अगर आपके मन में भी ऐसा ही सवाल है, तो इस पोस्ट में इसी सवाल को जानने की कोशिश करते हैं.

भगवान
भगवान राम

भगवान ने सारी सृष्टि बनाई –

भगवान ने सिर्फ भारत में ही जन्म क्यों लिया. इस सवाल से पहले एक सवाल और पैदा होता है कि क्या सच में सारी सृष्टि भगवान ने ही बनाई है. दरअसल, इस सवाल पर लोगों के अलग अलग मत हो सकते हैं. कुछ लोग जो आस्तिक होते हैं, जो भगवान को मानते हैं, वो इस बात का समर्थन करते हैं कि हाँ , भगवान ने ही इस सारी सृष्टि को बनाया है. अगर इस बात पर तर्क किया जाता है , तो उनके पास काफी सवाल होते हैं, जिनका जवाब वैज्ञानिको के पास भी नहीं है.

Copy

इस कारण वो अपने विचारों और आस्था को सही मानते हैं. आस्तिक लोगों की आस्था का मुख्य आधार यहीं होता है कि भगवान पर कभी सवाल खड़ा नहीं करना चाहिएं तथा हमारी धार्मिक पुस्तकों में जो लिखा होता है, वो ही सही है. इसी कारण आस्तिक लोग मानते हैं कि भगवान ने ही सृष्टि को बनाया है.


जहां तक नास्तिक लोगों का सवाल है, उनके मन में तर्क महत्वपूर्ण होते हैं. वो सृष्टि के निर्माण को लेकर इसे भगवान की कृति ना मानकर , मानते हैं कि सृष्टि के निर्माण का रहस्य विज्ञान में छिपा हुआ है. धरती या सृष्टि के निर्माण के पीछे भौतिक , रासायन , जीव विज्ञान के सिद्धांत उत्तरदायी हैं.

भगवान
भगवान विष्णु

सभी भगवान ने सिर्फ भारत में ही जन्म क्यों लिया –

इस सवाल का जवाब समझने के लिए हमें कुछ बातों को समझना होगा. हिंदू धर्म का आधार भारत में रहा है. हालांकि वर्तमान में हम जो भारत देश समझते हैं, प्राचीनकाल में इसका स्वरूप अलग था. पहले इसको जंबूद्ववीप के नाम से जाना जाता था. अब भारत में हिंदू धर्म को मानने वाले लोग अधिक हैं, तो यहां के देवी-देवताओं का संबंध उसके आस-पास ही होता है.

हिंदू धर्म के अलावा भी विश्व में कई धर्म प्रचलित हैं. सभी धर्म अपने भगवान को सर्वोपरि मानते हैं. उदाहरण के तौर पर हिंदू धर्म की धार्मिक पुस्तक गीता है, मुस्लिम धर्म की धार्मिक पुस्तक कुरान है , ईसाइ धर्म की धार्मिक पुस्तक बाईबल है इत्यादी. हमें इस बात को समझना होगा कि जिस क्षेत्र में जिस धर्म विशेष का जन्म हुआ है. उस क्षेत्र उस धर्म विशेष के भगवान का जन्म उसी क्षेत्र के आस पास से संबंधित होता है.

यह भी पढ़ें : सावन में सांप दिखे तो क्या करना चाहिएं क्या नहीं ?

हालांकि कुछ लोग इस बात से असहमत भी हो सकते हैं. कुछ लोगों के विचार हो सकते हैं कि भारत एक पुण्यभूमि है. यहीं कारण है कि यहां सभी भगवानों का जन्म हुआ. लेकिन हमें यहां यह भी समझना होगा कि भारत में भगवानों का जन्म हुआ वे सभी हिंदू धर्म से संबंधित हैं. हमारे लिए यह भी याद रखना आवश्यक है कि हमारा देश धर्मनिरपेक्ष राष्ट्र है.

यहां सभी को अपने धर्म का पालन करने तथा आस्था रखने का अधिकार है. सभी की अपनी अपनी आस्था होती है. हमें कोशिश करनी चाहिएं कि हमारी कोई बात किसी की आस्था या भावना को ठेस ना पहुँचाएं.

Today latest news in hindi के लिए लिए हमे फेसबुक , ट्विटर और इंस्टाग्राम में फॉलो करे | Get all Breaking News in Hindi related to live update of politics News in hindi , sports hindi news , Bollywood Hindi News , technology and education etc.