दिल्ली में लापरवाही से लगी आग, 43 लोग की मौत

दिल्ली
दिल्ली में लापरवाही से लगी आग, 43 लोग की मौत

दिल्ली में रविवार को जिस इमारत में आग लगी थी, उसमें 43 लोगों की मौत हो गई. उसके बाद भी सोमवार की सुबह उसी बिल्डिंग में फिर से आग लग गई है. आग लगने की जानकारी मिलने की जानकारी मिलने के बाद फायर ब्रिगेड की चार गा़ड़ियों ने मौके पर पहुंचक आग पर काबू किया गया. फिलहाल दिल्ली पुलिस ने इमारत के मालिक और उसके प्रबंधक को रविवार को गिरफ्तार कर लिया गया है.

बीच बचाव में आई पुलिस ने बताया कि इमारत के मालिक रेहान के खिलाफ भारतीय दंड संहिता धारा 304 और 285 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है. उन्होंने बताया कि उसके प्रबंधक की पहचान फुरकान के तौर पर की गई है. दोनो को राष्ट्रीय राजधानी से ही गिरफ्तार किया गया है.

वहीं दमकल अधिकारियों का कहना है कि जिस मंजिल में आग लगी है वह चार मजिल की इमारत थी और इसमें कई अवैध निर्माण इकाइयां थी. यह अग्नि सुरक्षा संबंधी मंजूरी के बिना ही चल रहीं थी. वहीं दूसरी और पुलिस का कहना है कि पूछताछ के दौरान यह पता चला है कि इमारत के ज्यादातर हिस्से पर मालिकाना हक रेहान का था, और उसने दूसरें लोगों को इसे किराए पर दिया हुआ था.

फिलहाल पुलिस उस इमारत के मालिक के भाईयों से पूछताछ कर रही है. वह इसलिए क्योंकि पुलिस को संदेह है कि उनमें से एक का इस इमारत में सह स्वामित्व है. इसके बाद पुलिस का कहना है कि इमारत के प्रत्येक तल पर कम से कम दो निर्माण इकाइयां थी और कुछ पर चार से ज्यादा इकाइयां चल रही थी.

यह भी पढ़ें : जुल्म की खौफनाक कहानी, उन्नाव पीड़िता ने दिल्ली में ली अंतिम सांसे

जानकारी के मुताबिक यह पता चला है कि एक इकाई में बड़े पैमाने पर दीवार पर टांगे जाने वाले शीशे बनाए जाते थे, एक में स्कूल बैग की सिलाई का काम होता था और एक में टोपी बनाने का काम होता था. पुलिस ने कहा कि वह इन इकाइयों को चलाने वाले लोगों और किराए पर इस जगह को लेने वालों की तलाश कर रही है.