टेरर फंडिंग के कारण पाकिस्तान हुआ ब्लैकलिस्ट, FATF ने की कार्रवाई

0
Imran Khan
Imran Khan

इमरान खान को एक बड़ा झटका देते हुए फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (FATF) ने पाकिस्तान को आतंकी फंडिंग और मनी लॉन्ड्रिंग पर कार्रवाई करने में विफल रहने के लिए ब्लैकलिस्ट कर दिया है।

पेरिस स्थित इस विश्व संस्था के एशिया-पैसिफिक ग्रुप (APG) ने पाकिस्तान को 11 में से 10 के प्रभावी पैरामीटर पर गलत ठहराया।

इसमें 40 में से 32 अनुपालन मापदंडों पर पाकिस्तान को गैर-अनुपालन योग्य पाया गया। पाकिस्तान किसी भी एक पैरामीटर पर इसे अपग्रेड करने के लिए 41-सदस्यीय संस्था को मनाने में विफल रहा।

FATF एपीजी की बैठक कैनबरा, ऑस्ट्रेलिया में हुई थी और यह चर्चा दो दिनों में सात घंटे तक चली थी।

इस संस्था के एक भारतीय अधिकारी ने कहा, “एपीजी ने पाकिस्तान को अपने मानकों को पूरा करने में विफल रहने के लिए बढ़ी हुई फॉलोअप सूची (ब्लैक लिस्ट) में रखा है।”

एफएटीएफ ने कहा था कि पाकिस्तान आतंकी वित्तपोषण पर अपनी कार्ययोजना को पूरा करने में विफल रहा, इस्लामाबाद को अक्टूबर तक अपनी प्रतिबद्धता को पूरा करने या कोई कार्रवाई करने की चेतावनी दी।

यह भी पढ़ें: जानिये ‘अमेज़ॉन फॉरेस्ट’ की चौकाने वाली बातें, अलग दुनिया बसी हुई है यहाँ

पेरिस स्थित वैश्विक संस्था आतंकवाद के वित्तपोषण और धन शोधन पर रोक लगाने के लिए काम कर रही है और उसने पाकिस्तान से देश में प्रतिबंधित आतंकवादी संगठनों के संचालन को रोकने के लिए कहा है।

पिछले साल जून में, एफएटीएफ ने पाकिस्तान को उन देशों की ग्रे सूची में रखा था, जिनके घरेलू कानूनों को धन शोधन और आतंकवाद के वित्तपोषण की चुनौतियों से निपटने के लिए कमजोर माना जाता है।