गुजरात के इस आईडिया से पैदा होंगी 1 लाख नौकरी, जापान दे रहा है साथ

0

गुजरात सरकार गुजरात में जापानी बस्ती बसाने जा रहीं है इससे जापानियों का गुजरात आने से गुजरात में निवेश बढ़ेगा। गुजरात औधोगिक विकास कॉरपोरेशिन की उपाध्यक्ष और प्रबंध निदेशक डी. थारा ने कहा की हम वर्तमान समय में साणंद औधोगिक क्षेत्र से पांच किलोमीटर दूर खरोज गांव में 700 हेक्टेयर में जापानी बस्ती बसाने जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें: “राहुल गाँधी केरल में बीफ खाते हैं, गुजरात में बन जाते हैं जनेऊधारी”

अहमदाबाद से 90 किलोमीटर दूर मंडाल में 120 हेक्टेयर में जापानी औधोगिक पार्क है जिसमें 13 कंपनियां हैं। लेकिन राज्य में जापानी कंपनियों के लिए बडे औधोगिक क्षेत्र और वहां से आने वाले लोगों के लिए आवासीय परिसर का आवश्यकता महसूस की जा रही थी। जापानी कंपनियों की तादाद बढ़ती जा रही है जापान के लोगों को अपने माहौल और सांस्क्रतिक जीवन जीने के लिए अलग वातावरण की ज़रुरत हैं।

जापानी टाउनशिप को बसाने के लिए जापान की सरकार गुजरात की सरकार के साथ मिलकर तेजी से काम कर रहीं है। इस टाउनशिप में आवासी परिसर, व्यावसायिक प्रतिष्ठान, स्कूल, कालेजों का निर्माण किया जाएगा।प्रदेश की सरकार प्रमुख सड़को का भी निर्माण कर रही हैं और जापान टाउनशिप का डिजाइन करेगा। उन्होंने कहा, “जापान टोयोटा त्सूशो जैसे इंडस्ट्रियल पार्क डेवलपर को इस कार्य में लगाने की योजना बना रहा है. हम उनको जमीन देंगे और वे उसे विकसित कर जापानी कंपनियों को देंगे.”

यह भी पढ़ें:  गुजरात में शिशुओं की मौत के मामले पर सरकार की तरफ से अडानी समूह के अस्पताल को मिली क्लीन चिट

जापान को तकनीक में हासिल है महारथ

जापान पुरी दुनिया में अपनी विकसित तकनीक के बारे में जाना जाता हैं। यहीं वजह है की गुजरात सरकार जापानियों को गुजरात में बसाने की योजना बना रहीं हैं। ताकि प्रदेश को जापानी तकनीक हासिल हो सके और प्रदेश तरक्की के रास्ते पर आगे बढ़ सके। आठ जापानी कंपनी पहले ही खोराज में अपना युनिट लगाने में दिलचस्पी दिखा चुकी हैं। जहां उन्हें अपने घर जैसे माहौल मिलेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one × 2 =