बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश बाबू बोले- बिहार से अब सभी ‘भूत’ भाग गए… जानिए वजह

0

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार में बिजली आई और भूत भाग गया | राज्य के हर घर में बिजली पहुंचने से ऐसा हुआ है। हर तरफ उजाला ही उजाला है। पहले लोग अपने बच्चों को गांवों में नियंत्रित करने के लिए डराते थे कि बाहर मत जाओ, वहां भूत है। अब कोई नहीं डराता।

समय सीमा से दो महीने पहले ही हर घर बिजली :-

पटना में ऊर्जा विभाग द्वारा आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि हमलोगों का निश्चय था कि 31 दिसंबर- 2018 तक बिहार के हर घर में बिजली कनेक्शन दे देंगे। लक्ष्य से दो महीने पहले ही सभी घरों में बिजली पहुंचा दी गई है। यह बहुत बड़ी खुशी की बात है। इसके लिए हम ऊर्जा विभाग को बधाई देते हैं।

मुख्यमंत्री ने लिया नया संकल्प :- 

‘हर घर बिजली’ निश्चय पूरा होते ही मुख्यमंत्री ने नया संकल्प लिया और ऊर्जा विभाग को नया टास्क भी दिया। हालांकि वो डेड्लायन की घोषणा नहीं कर रहे थे लेकिन राज्य के ऊर्जा मंत्री विजेंद्र यादव ने भाषण के बीच में उन्हें कहा कि जो भी समय सीमा वह तय करना चाहे यहीं कर दें काम हो जाएगा | उसके बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि 31 दिसंबर- 2019 तक राज्य के सभी जर्जर तारों को बदल दें और कृषि फीडर स्थापित कर दें। बिलिंग सिस्टम को और दुरुस्त करें। यह घोषणा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को बापू सभागार में बिहार की विद्युत कंपनियों के छठे स्थापना दिवस पर आयोजित समारोह में बोले थे। बिहार में जब नीतीश कुमार सता में 2005 में आए थे उस समय पूरे राज्य में बिजली की खपत 700 मेगावाट थी जो अब बढ़कर 5000 मेगावाट से अधिक हो गई है |

मुख्यमंत्री ने कहा कि सौर ऊर्जा ही है असली बिजली :-

ख्यमंत्री ने कहा कि सौर ऊर्जा के लिए कजरा और पीरपैंती में 250-250 मेगावाट का सोलर पावर प्लांट लग रहा है। क्योंकि सौर ऊर्जा ही असली बिजली है। यह हमेशा रहेगा, उनका कहना है की, लोग बाद में सौर ऊर्जा को ही अधिक पसंद करेंगे। लोगों के बीच इसको लेकर जागरूकता फैलानी चाहिए।

85 करोड़ की लागत से नया विद्युत भवन बनेगा :-

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विद्युत कर्मियों के लिए कुछ नयी घोषणाएं कीं। मुख्यमंत्री ने कहा कि विद्युत भवन का विस्तार होगा। इसमें नया भवन 85 करोड़ की लागत से बनेगा। तथा साथ ही साथ उन्होंने कहा की बोर्ड कॉलोनी में सामुदायिक भवन का निर्माण होगा। साथ ही बोर्ड कॉलोनी में नया ऑडिटोरियम भी बनाया जाएगा।

या बात तो तय है की मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बिजली के क्षेत्र में अपने वादे पूरे करने के बाद वह फूले नहीं समा रहे हैं. उनकी ख़ुशी का एक और कारण है कि उनकी हर घर बिजली कार्यक्रम को केंद्र सरकार ने भी सोभाग्य योजना का नाम देकर काफी तारीफ किया गया |