हे राम! करणी सेना प्रमुख का दावा ‘उनका परिवार भगवान राम के पुत्र लव का वंशज है’

0
https://news4social.com/?p=54884

रघुवंश राजवंश (भगवान राम का) में से कोई भी अयोध्या में रह रहा था या नहीं, इस पर सुप्रीम कोर्ट के सवाल के जवाब के रूप में शुरू हुआ मुद्दा अब कॉमेडी ऑफ़ एरर में तब्दील हो चुका है। कई परिवार ऐसे हैं जो अपने को भगवान राम का वंशज बता रहे हैं।

राजस्थान स्थित करणी सेना के संस्थापक ने दावा किया है कि उनका परिवार भगवान राम के बड़े बेटे लव का वंशज है। वहीं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के एक सांसद ने कहा कि वह कुश के वंशज थे।

श्री राजपूत करणी सेना के संस्थापक लोकेंद्र सिंह कल्वी ने कहा, “मैं भगवान राम के बड़े बेटे लव का वंशज हूं। मैं सिसोदिया राजपूत हूं, जिन्हें लव के वंशज माना जाता था।”

इंडिया टुडे की एक रिपोर्ट के अनुसार, कल्वी ने आगे कहा कि वह इसीलिए चाहते हैं कि सुप्रीम कोर्ट में चल रहे अयोध्या विवाद में उन्हें पक्षकार बनाया जाये।

इससे पहले बीजेपी की सांसद और जयपुर की पूर्व राजनेता दीया कुमारी ने कहा था: “मेरा परिवार भगवान राम का वंशज है। मेरे पिता भगवान राम के 309 वें वंशज थे। हम कुशवाहा या कछवा वंश के हैं।”

इसके लिए कालवी ने दीया कुमारी के प्रति अपना समर्थन व्यक्त किया, क्योकि अयोध्या विवाद का उल्लेख भगवान राम के वंशजों के बारे में नहीं था, बल्कि भूमि के असली मालिकों के बारे में था।

उदयपुर के पूर्ववर्ती शाही परिवार के एक सदस्य अरविंद सिंह मेवाड़ ने सोमवार को ट्वीट किया, “यह ऐतिहासिक रूप से सिद्ध है कि मेरा परिवार श्री राम का प्रत्यक्ष वंशज है। हम राम जन्मभूमि पर किसी भी दावे को दांव पर नहीं लगाना चाहते हैं लेकिन विश्वास करते हैं कि अयोध्या में राम जन्मभूमि पर राम मंदिर का निर्माण होना चाहिए।”

इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए मेवाड़ ने कहा कि वह भगवान राम के 232 वें वंशज हैं।

यह भी पढ़ें: सवाल 74 – रामायण के खास रहस्य क्या है?

दीया कुमारी ने अपनी ओर से कहा कि अगर वह अयोध्या भूमि विवाद मामले में तेजी लाने में मदद कर सकती हैं तो वह इस मामलें में दस्तावेज उपलब्ध कराएंगी।

खुद को भगवान राम का वंशज बताने की होड़ तब लगी जब भारत के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच-न्यायाधीशों की संविधान पीठ ने पिछले सप्ताह वरिष्ठ अधिवक्ता के परासरन से पूछा था कि क्या ‘राम लल्ला विराजमान’ के लिए कोई रघुवंश राजवंश से कोई है और क्या वो अभी भी ज़िंदा हैं।