यूपी बोर्ड परीक्षा में 2.39 लाख छात्रों ने छोड़ी परीक्षा

up news
यूपी बोर्ड परीक्षा में 2.39 लाख छात्रों ने छोड़ी परीक्षा

उत्तर प्रदेश बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन के सत्र 2019-20 के लिए आयोजित की गई परीक्षा के पहले दिन मंगलवार को 2.39 लाख से अधिक छात्र परीक्षा में शामिल नहीं हुए.

इन छात्रों में से 1.57 लाख से अधिक छात्र कक्षा 10 के हाई स्कूल से हैं और 82,091 छात्र इंटरमीडिएट के हैं. यह डेटा जिला और मंडल स्तर के नियंत्रण कक्षों द्वारा दी गई सूचना पर आधारित है.

उत्तरप्रदेश बोर्ड सचिव कार्यालय द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, 34 छात्रों को ‘परीक्षा में करते हुए पकड़ा गया था’, जबकि उनमें से 27 बच्चों में से 26 लड़के और एक लड़की हाई-स्कूल से थे, अन्य सात लड़के इंटरमीडिएट से थे. गड़बड़ी के संबंध में कुल 7 प्राथमिकी भी दर्ज की गई है.

रिपोर्ट के मुताबिक, शैक्षणिक सत्र 2019-20 के लिए यूपी बोर्ड परीक्षा के लिए कुल 56,01,034 विद्यार्थियों ने पंजीकरण कराया है. इस वर्ष पंजीकरण की संख्या 2019 की तुलना में 1.94 लाख और 2018 की तुलना में लगभग 10 लाख कम है.

इस साल हाईस्कूल में कुल 30,33,961 छात्रों ने पंजीकरण कराया है, जबकि इंटरमीडिएट में कुल 25,67,073 छात्र पंजीकृत हैं. हाई स्कूल में पंजीकृत कुल 30,12,855 नियमित छात्र हैं, जबकि 21,106 प्राइवेट परीक्षार्थी हैं. इंटरमीडिएट में 24,96,531 छात्र नियमित हैं जबकि 70,542 छात्र प्राइवेट हैं.

यह भी पढ़ें :रामनवमी को हो सकता है राम मंदिर का शिलान्यास

उत्तरप्रदेश सरकार ने इस साल परीक्षा को लेकर कुछ नई पहल की है, जैसे सीसीटीवी कैमरों में वॉयस रिकॉर्डिंग की सुविधा भी है और इस साल हाईस्कूल की परीक्षाएं 12 कार्य दिवसों में और इंटरमीडिएट की परीक्षा 15 कार्य दिवसों में समाप्त होने वाली है और बोर्ड परीक्षाओं के नतीजे 24 अप्रैल को घोषित किए जाएंगे.