सांसद वरुण गाँधी ने 9 साल से नहीं ली अपनी सैलरी

0

नेता बोलते तो बहुत है लेकिन जब अमल करने की बात आती है तो उनकी बातें भाषण ही बन कर रह जाती हैं. लेकिन इस मामले में वरुण गाँधी ने जो बोला था वो करके भी दिखाया है. उन्होंने पिछले 9 साल से अपनी सांसद की सैलरी नहीं ली है. अब भारतीय राजनीति में एसा भला बेहद ही कम देखने को मिलता है जिसमे नेता जो बोले वो खुद पर भी अमल करे.

‘जो मैं बोलता हु वो मैं करता हु’

जी हाँ वरुण गाँधी ने कुछ एसा ही कर दिखाया है. बीजेपी सांसद वरुण गांधी अमीर सांसदों द्वारा अपना वेतन छोड़ने की मांग करते रहे हैं. ऐसा नहीं है कि वे केवल दूसरे सांसदों को वेतन नहीं लेने की सलाह देते हैं बल्कि वे खुद भी वेतन नहीं ले रहे हैं. वरुण गांधी ने पिछले 9 साल से सांसद के रूप में मिलने वाले वेतन को गरीब और जरूरतमंदों में बांट रहे हैं. वेतन का एक पैसा भी वह अपने लिए इस्तेमाल नहीं करते हैं.

यूपी के सुल्तानपुर से है सांसद

वरुण सुल्तानपुर से सांसद है और सदन में कई दफा जनहित के मुद्दों पर बहस नहीं होने और सांसदों के वेतन व भत्ते में होने वाले इजाफे पर चिंता जाहिर करते रहते हैं. उन्होंने इस साल के शुरू में लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन से अपील की थी कि आर्थिक रूप से सम्पन्न सांसदों द्वारा 16वीं लोकसभा के बचे कार्यकाल में अपना वेतन छोड़ने के लिए आंदोलन शुरू करें. लोकसभा अध्यक्ष को लिखे पत्र में वरुण गांधी ने कहा था कि भारत में असमानता प्रतिदिन बढ़ती जा रही है. भारत में एक प्रतिशत अमीर लोग देश की कुल संपदा के 60 प्रतिशत के मालिक हैं. भारत में 84 अरबपतियों के पास देश की 70 प्रतिशत संपदा है. यह खाई हमारे लोकतंत्र के लिए हानिकारक है.

वह अनेको बार जरुरतमंदो की सहायता कर चुके है. अपने संसदिये इलाके में उन्होंने गरीबो के लिए करीब दो दर्जन घर बनवाए है. कुछ समय पहले उन्होंने एक किसान को 5 लाख की आर्थिक सहायता भी की थी. हाली में उन्होंने एक ऐसे ही जरूरतमंद रामजी गुप्ता को ढाई लाख रुपये की आर्थिक मदद की थी. रामजी गुप्ता को कैंसर से जूझ रहे अपने पिता के इलाज के लिए पैसे की जरूरत थी और उन्होंने इसके लिए वरुण गांधी से आर्थिक मदद की अपील की. वरुण गांधी ने रामजी गुप्ता की जरूरत को देखते हुए उन्होंने तत्काल ढाई लाख रुपये की मदद महैया कराई.

वरुण गाँधी कहते है की राजनीति जनता की सेवा के लिए है. वो लोगो की मदद करने के लिए राजनीति में है ना की पैसे कमाने के लिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

16 − fifteen =