महाराष्ट्र की मासूम बच्ची के साथ चाचा ने की घटिया हरकत

0
महाराष्ट्र की मासूम बच्ची के साथ चाचा ने की घटिया हरकत

कहते है कि इस दुनिया में किसी पर भी विश्वास करना बहुत ही मुश्किल है और अगर ऐसे में बात करें रिश्तेदारों की, तो उन्में कुछ ऐसे भी होते है जो रिश्तों को मजाक बनाकर रख देते है और किसी भी घटना को अंजाम देने से पहले कुछ नहीं सोचते. ऐसा ही एक मामला महाराष्ट्र से एक मासूम अनाथ व बेसहारा लड़की का है. जिसे उसी के मुंह बोले चाचा ने अजमेर में एक 50 साल के अधेड़ उम्र के व्यक्ति को बेच दिया.

इस बात का आप खुद ही अंदाजा लगा सकते है कि इस मासूम लड़की का इसके चाचा ने किस तरह से फायदा उठाया होगा. अजमेर में उस दरिंदे ने बच्ची के साथ जोर जबरदस्ती करने की कोशिश की, लेकिन बच्ची जैसे तैसे वहां से भी भागने में कामयाब हो गई. वहां से भागकर पुष्कर पहुंची. जहां पर उसने एक दिन निकाल दिया.

जिसके बाद एक बुजुर्ग ने उसे कुछ पैसे देकर रतनगढ़ की बस में बैठा दिया. यहां कि पुलिस ने उसे बाल आश्र गृह में भेज दिया है. बता दें कि इस बच्ची के माता पिता दोनों ही नही है. एक बड़ी बहन थी, जो लोगों के घर-घऱ जाकर काम करती थी और दोनों का ही पालन पोषण कर रही थी, लेकिन एक हादसे में लड़की की मौत हो गई.

बड़ी बहन के मौत के बाद उसका मुंह बोला चाचा उसे अपने घर लेकर चला गया. उसके बाद वह बच्ची को घूमाने का बहाना बनाकर उसे अजमेर ले गया. जहां पर लेजाकर उसे 50 साल के वृद्ध को बेच दिया. वह वृद्ध उस लड़की के पास आकर बैठ गया और उसका चाचा वहां से कहीं जाने का बहाना करके चला गया, फिर उसके बाद वह लौटकर नहीं आया. वह वृद्ध आदमी उस मासूम को अपने साथ अपने घर ले गया.

यह भी पढ़ें : चंडीगढ़: मॉल में बम मिलने की सूचना पर मचा हड़कंप, आसपास के एरिया को भी कराया गया खाली

उस मासूम बच्ची को क्या पता था कि जो उसे अपने घर लेकर जा रहा है. वह एक वेहसी दरिंदा है. ऐसे में यह सवाल उठता है कि क्या किसी पर भरोसा करके उसके साथ जाना ठीक है? या यू कहें कि मां-बाप के न होने पर लोग किसी को सहारा देने के वजह उसे इस तरह सरे आम बेच देते है.