जानिए कैसे सेल्फी के पागलपन में गई जान ?

0
1
जानिए कैसे सेल्फी के पागलपन में गई जान ?

आजकल सभी लोगों पर सेल्फी लेने का पागलपन बहुत ही ज्यादा छाया हुआ है. सेल्फी लेने के लिए लोग क्या क्या पागलपन कर जाते है कि उन्हें अपनी जान से ही हाथ धोना पड़ जाता है. वह ऐसा कुछ कर जाते है कि सेल्फी उनके मौत का करण बन जाता है ऐसा ही हुआ है देहरादून में जहां पर दो छात्रों की सेल्फी लेने के दौरान जान चली गई.

बता दें कि दोनो ही छात्र तोषी नदी में डूबने से मौत हो गई है राजपुर थाना क्षेत्रांतर्गत जाखन में एक हॉस्टल में रह रहे कई छात्र एनडीए की तैयारी कर रहें हैं. ये बच्चे मंगलवार को इनमें से दस छात्र हॉस्टल से मूर्ति विसर्जन की बात कहकर निकले थे. यह छात्र करीब 12 बजे चंद्रोटी क्षेत्र में पहुंचे और तोषी नदी के किनारे सेल्फी लेने लगे.

इन दोनों छात्रों में से एक का नाम अंशुमन शुक्ला है. जो गोंडा में रहता है और दूसरे सचिन पुंडीर है ये छात्रा दून के थाना सहसपुर के सभावाला का रहने वाला है. अंशुमन जब नदी में जा गिरा तभी उसे बचाने के लिए सचिन नदी में कूद गया. इस नदी का बहाव बहुत ही तेज था जिससे दोनों ही बहकर नदी के गड्ढे में फंस गए उन्हें इन दोनों को बचाने के लिए सनी भी नदी में कूद गया.

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड हाईकोर्ट ने दिया बड़ा फैसला

जिसके बाद इस नदी के तेज बहाव में तीनों ही बह गये, जिसमें से एक को बचा लिया गया. किनारे की और पहुंचे सनी को उसके दोस्तों ने बचा लिया लेकिन दोनों दोस्तों को नहीं बचाया जा सका. उनकी जान चली गई.