मुंबई में डॉक्टर पायल तड़वी के आत्महत्या मामले में आरोपी को किया गिरफ्तार

0

मुंबई में नायर अस्पताल में जूनियर डॉक्टर पायल तड़वी के जातिगत को लेकर कुछ डॉक्टर उसे परेशान कर रहे थे और जातिवाद को लेकर उसे हमेशा परेशान किया जाता था. जिससे परेशान होकर उसने अत्महत्या कर ली. बता दे कि तड़वी ने अपने सिनियर डॉक्टर से इसकी शिकायत भी की थी.


तड़वी के आत्महत्याा करने पर उनके परिजनों ने विरोध प्रदर्श करना शुरू कर दिया. वहीं दूसरी तरफ डॉक्टर पायल तड़वी की आत्महत्या के छठे दिन भी विरोध प्रदर्शन जारी रहा. मालूम हो की इसमें मृतक के परिवार वाले और कुछ नेता गण शामिल हुए.


बता दें कि महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में पायल तडवी की आत्महत्या के मामले में तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. गिरफ्तार आरोपियों में अंकिता लोखंडवाला, हेमा आहुजा और भक्ति मेहर का नाम शामिल है. हेमा आहुजा को मंगलवार रात गिरफ्तार किया गया. वहीं भक्ति मेहर को मुंबई सेशन कोर्ट से मंगलवार शाम में गिरफ्तार किया गया. अंकिता खंडेलवाल को मुंबई पुलिस ने बुधवार सुबह गिरफ्तार कर लिया है.


बता दें कि तडवी ने 22 मई को खुदकुशी कर ली थी. तडवी अनुसूचित जनजाति की थी जिसको लेकर तीन डॉक्टर महिलाएं उसे हमेशा ताने देती रहती थी, साथ ही मानसिक रूप से प्रताड़ित करती थी. पायल तडवी मुंबई के बीवाईएल नायर हॉस्पिटल में एमडी सेंकड ईयर की छात्रा थी.

राष्ट्रीय महिला आयोग ने भी इस मामले में संज्ञान लिया है और अस्पताल को नोटिस जारी किया है. वहीं मुंबई कांग्रेस के प्रमुख मुरली देवड़ा ने संयुक्त पुलिस आयुक्त विनय चौबे से मुलाकात की. इस दौरान उन्होंने डॉ. पायल तडवी के आत्महत्या मामले के संबंध में एक ज्ञापन सौंपा. फिलहाल पुलिस ने आरोपि को गिरफ्तार कर आगे कि कार्यवाही में लग गई है.