रामविलास बनेंगे मंत्री, चिराग पासवान ने ख़त्म की अटकलें

0

एनडीए की नाँव पर सवार होकर लोक जनशक्ति पार्टी ने बिहार में 6 में 6 सीटों पर जीत दर्ज की है. इसके बाद से ही अटकलें लगाई जा रही थी कि अबकी बार मंत्री का पड़ रामविलास पासवान की जगह उनके बेटे चिराग पासवान को मिलेगी, लेकिन चिराग पासवान ने इन सब अटकलों को ख़त्म कर दिया.

चिराग ने बताया कि पार्टी के संसदीय बोर्ड के बैठक में नवनिर्वाचित सभी सांसदों ने हिस्सा लिया. रामविलास पासवान चुनाव नही लड़े थे लेकिन उन्हें राज्यसभा के रास्ते संसद में लाने की योजना है. चिराग ने अपने नाम की अटकलों को खारिज करते हुए कहा कि उनका नाम आगे बढाया गया था लेकिन संसदीय बोर्ड के निर्णयों से वे बंधे हुए हैं.

मालूम हो कि लोजपा के 6 सांसदों के संसद में पहुँचने से गदगद पार्टी ने चिराग को संसद में पार्टी का नेता नियुक्त किया है तथा उपनेता महबूब अली कैसर होंगे. यहाँ ये भी महत्वपूर्ण है कि वैसे तो भाजपा को ही पूर्ण बहुमत मिला हुआ है इसलिए कोई भी दल मंत्री पड़ के लिए दबाव नहीं बना सकता है.  

सवालों का जवाब देते हुए चिराग ने बताया कि बिहार में महागठबंधन की हार का मुख्य कारण उनके नकारात्मक चुनाव अभियान था. उन्होंने बताया कि ऐसा पहली बार होगा कि राजद से कोई भी प्रतिनिधि लोकसभा में नहीं पहुँच पाया है.