रवि शास्त्री इन आंकड़ों के आधार पर फिर बने टीम इंडिया के कोच

0
https://news4social.com/?p=55165

क्रिकेट सलाहकार समिति (CAC) ने शुक्रवार को घोषणा की कि वर्तमान टीम इंडिया के मुख्य कोच रवि शास्त्री मुंबई में छह उम्मीदवारों के इंटरव्यू के बाद भारतीय टीम के कोच बनाये गए हैं। शास्त्री को दो साल की अवधि के लिए फिर से नियुक्त किया गया है, शास्त्री का कार्यकाल भारत में होने वाले 2021 टी 20 विश्व कप के बाद ख़त्म होगा।

पूर्व भारतीय विश्व कप विजेता कप्तान कपिल देव, पूर्व बल्लेबाज अंशुमान गायकवाड़ और महिला टीम की कप्तान शांता रंगास्वामी मुंबई में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) मुख्यालय में 6 शॉर्टलिस्ट किये गए उम्मीदवारों का इंटरव्यू लिया।

Install Kare Flipcart App aur Paaye Rs.500 PayTm Par Turant

शास्त्री को माइक हेसन, टॉम मूडी, लालचंद राजपूत और रॉबिन सिंह में से चुना गया है। शुक्रवार को इस पद के लिए इंटरव्यू आयोजित किया गया था। फिल सिमंस ने अपने आपको इंटरव्यू से बाहर कर लिया था।

यह राष्ट्रीय टीम के साथ शास्त्री का चौथा कार्यकाल होगा, जिन्होंने संक्षेप में क्रिकेट प्रबंधक (बांग्लादेश का 2007 का दौरा), टीम निदेशक (2014-2016) और मुख्य कोच (2017-2019) के रूप में कार्य किया है।

CAC के प्रमुख कपिल देव ने दिन के दौरान होने वाले उम्मीदवारों के इंटरव्यू के पूरा होने के बाद मीडिया से कहा, “हमने सर्वसम्मति से रवि शास्त्री को भारतीय क्रिकेट टीम के कोच (मुख्य) के रूप में नियुक्त करने का फैसला किया है।”

उन्होंने कहा, “नंबर तीन पर टॉम मूडी थे, दूसरे नंबर पर माइक हेसन थे। नंबर एक पर रवि शास्त्री थे।”

57 वर्षीय शास्त्री को 2017 में चैंपियंस ट्रॉफी के बाद सौरव गांगुली, सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण के तत्कालीन सीएसी द्वारा पूर्णकालिक कोच नियुक्त किया गया था। कप्तान विराट कोहली और अनिल कुंबले के बीच अनबन के बाद तत्कालीन कोच के पद से अनिल कुंबले को अपने पद से हटना पड़ा।

हालांकि, शास्त्री ने टीम को एक साथ आने में मदद की है और भारत वर्तमान में टेस्ट क्रिकेट में नंबर 1 पर है और वनडे में दूसरे स्थान पर है। पूर्व ऑलराउंडर का रवि शास्त्री का बड़े टूर्नामेंट में उपलब्धियां खराब नहीं हैं। अब तक के उनके दो साल के कार्यकाल के दौरान, भारत इस साल की शुरुआत में विश्व कप के सेमीफाइनल में पहुंचा, उसने एशिया कप जीता और पिछले साल अपनी पहली टेस्ट सीरीज़ ऑस्ट्रेलिया में जीती।

भारत ने 21 में से 13 टेस्ट जीते, 60 एकदिवसीय मैचों में से 43 और 36 टी 20 में से 25 अंतर्राष्ट्रीय मैच जीते।

यह भी पढ़ें: वेस्टइंडीज के खिलाफ़ जीत में कोहली ने तोड़ा 26 साल पुराना रिकॉर्ड

हालाँकि, ऐसा कहा जा रहा रवि शास्त्री का कप्तान विराट कोहली के साथ अच्छा सम्बन्ध उन्हें कोच पद पाने में मदद किया। कोहली ने वेस्टइंडीज दौरे के लिए रवाना होने से पहले कहा, “रवि भाई के साथ, हम एक शानदार बदलाव साझा करते हैं, और निश्चित रूप से बहुत खुश होंगे, अगर वह दुबारा कोच बनते हैं।’

उम्मीदवारों को मुख्य रूप से पांच पहलुओं पर चिह्नित किया गया था – कोचिंग दर्शन, अनुभव, उपलब्धियों, संचार और आधुनिक उपकरणों का ज्ञान।

15 सितंबर से शुरू होने वाले दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ शास्त्री की फिर से कोच की नियुक्ति होगी।