रात को जेल में लड़की के साथ रहना चाहता है बलात्कारी बाबा

0

बलात्कारी राम-रहीम के तेवर अभी भी कम नहीं हुए हैं। वो जेल प्रशासन के अधिकारी को सस्पेंड करवाने की धमकी दे रहा है। दरअसल सीबीआई कोर्ट में 25 अगस्त को रेपिस्ट साबित होने के बाद पुलिस उसकी दत्तक बेटी हनीप्रीत को हेलिकॉप्टर में उसके साथ रोहतक जेल ले गई थी। क्योंकि, पंचकूला सीबीआई कोर्ट में ही राम रहीम ने एप्लीकेशन दायर कर बीमार होने की बात कही थी। हनीप्रीत ने भी वकील के जरिए कहा- वह जेल में डेरा मुखी के साथ रहना चाहती है। वह एक्यूप्रेशर एक्सपर्ट है। उनकी कमर में दर्द है। माइग्रेन भी रहता है। जज ने कहा कि कोर्ट इस पर आदेश नहीं दे सकता। सरकार या जेल प्रशासन तय करे कि कोई साथ रहना चाहता है तो साथ रहने दिया जाए या नहीं। जेल में अफसरों के इजाजत न देने पर राम रहीम ने उन्हें सस्पेंड कराने की धमकी दी।

जेल में लड़की को नहीं रखा जा सकता….

शुक्रवार को पुलिस हनीप्रीत को राम रहीम के साथ ले गई। शाम 4.55 बजे दोनों रोहतक की सुनारिया जेल के पास पुलिस ट्रेनिंग कॉलेज के हेलिपैड पर उतरे। यहां से कॉलेज की मैस के साथ बने रेस्ट हाउस ले जाया गया। इसे सरकार ने अस्थायी जेल बनाया था।

जेल मैनुअल के हिसाब से यहां महिला नहीं रखी जा सकती थी। जेल प्रशासन ने हनीप्रीत को वीआईपी रिटायरिंग रूम में राम रहीम के साथ पौने दो घंटे तक रहने दिया।

जब जेल प्रशासन राम रहीम को रेस्ट हाउस से जेल ले जाने लगे तो राम रहीम ने अफसरों से कहा- कमर दर्द व माइग्रेन के कारण कोर्ट ने हनीप्रीत को साथ रखने की मौखिक इजाजत दी है। वह रात को साथ रहेगी। अफसरों ने बात नहीं मानी तो हंगामा किया।

हनीप्रीत के मोबाइल से सीएम व केंद्र के मंत्री को फोन लगाने व अफसरों को सस्पेंड कराने की धमकी दी। मैस रूम से हनीप्रीत ने चंडीगढ़ व दिल्ली के लिए फोन लगाए।

हनीप्रीत की पहचान?

फेसबुक पर खुद को राम रहीम की वारिस घोषित करने वाली हनीप्रीत का असली नाम प्रियंका तनेजा है।

फतेहाबाद की प्रियंका को 2009 में राम रहीम ने गोद लिया था। डेरे में उसका हुक्म राम रहीम के बराबर ही माना जाता था। राम रहीम की खुद की दो बेटियां अमनप्रीत व चरणप्रीत, एक बेटा जसमीत है। हनीप्रीत राम रहीम को गुरु पा और पापा एंजेल कहती है। राम रहीम के हर ट्वीट का जवाब हनीप्रीत देती रही है।

7 फरवरी 2017 के एक टवीट में हनीप्रीत ने डेरामुखी को लिखा- ‘यू आर लवलियर दन द रेड रोज़ एंड आई इंटेसेली लव यूअर ऑल स्टाइल्स एंड पोज्रेज। विशिंग यू ए हैप्पी रोज डे।’

बलात्कारी लड़की को रखना चाहता है साथ

हरियाणा के डीजीपी बीएस संधू ने बताया कि राम रहीम हनीप्रीत को साथ रखना चाह रहा था। फैसला जेल प्रशासन को या सरकार को लेना था। जेल के अफसरों ने मुझसे राय पूछी तो मैंने साफ मना कर दिया था।

मैं जब पहुंचा राम रहीम बैरक में था: डीसी

रोहतक डीसी अतुल कुमार का कहना है कि मेरे ध्यान में ऐसा मामला नहीं है कि डेरामुखी को जेल से पहले वीआईपी ट्रीटमेंट देते हुए महिला के साथ पुलिस ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट की मैस रूम में रखा गया। मैं जब जेल पहुंचा तो राम रहीम बैरक में अन्य कैदियों के साथ थे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

16 − two =