पैरोल पर गायब ‘Dr. Bomb’ को ढूढ़ने के लिए सुरक्षा एजेंसियों ने चलाया अभियान

Jalees Ansari
Jalees Ansari

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार महाराष्ट्र आतंकवाद निरोधक दस्ता और मुंबई पुलिस एक खूंखार आतंकवादी डॉ) जलीस अंसारी को ट्रैक करने के लिए मिशन शुरू कर दिया है। आपको बता दें कि जलेस अंसारी पैरोल पर बाहर था लेकिन वह अब गायब है।

राजस्थान के अजमेर जेल में उम्रकैद की सजा काट रहे जलीस 28 दिसंबर को मुंबई में अपने परिवार से मिलने के लिए सुप्रीम कोर्ट के आदेशों के अनुसार पैरोल पर रिहा किया गया था, और उसे शुक्रवार (17 जनवरी) को जेल में वापस लौटना था।

‘डॉ बम’ के रूप में संदर्भित अंसारी 1990 के मध्य में देश भर में चार दर्जन से अधिक बम विस्फोटों की साजिश रचने और उसे अंजाम देने में शामिल था।

गुरुवार को उसके परिवार के सदस्यों ने अग्रीपाड़ा पुलिस स्टेशन में शिकायत की कि वह सुबह 5 बजे ‘नमाज’ अदा करने गए थे और फिर ‘लापता’ हो गए। उनका फोन स्विच ऑफ हो गया और कहीं भी कोई निशान नहीं मिला।

मुंबई पुलिस ने महाराष्ट्र एटीएस और अन्य लोगों को सतर्क किया है जिन्होंने अंसारी का पता लगाने और उन्हें गिरफ्तार करने के लिए बड़े पैमाने पर अभियान चलाया।

अंसारी ने 1990 के दशक की शुरुआत में पाकिस्तान में आतंक और विस्फोटक प्रशिक्षण प्राप्त किया था।उसे आखिरकार जयपुर सीरियल ब्लास्ट, अजमेर ब्लास्ट और मालेगांव ब्लास्ट केस में दोषी ठहराया गया और जेल में उम्रकैद की सजा मिली।

इसके अलावा अंसारी कथित तौर पर पुणे, मुंबई, हैदराबाद और अन्य स्थानों पर कई अन्य विस्फोटों में शामिल था।

यह भी पढ़ें: जानिए कौन था करीम लाला? इंदिरा गांधी की लाला से मुलाकात का क्या है रहस्य?

एक आतंकी मास्टरमाइंड अब्दुल करीम टुंडा से प्रभावित होकर अंसारी ने IM, HuJI, सिमी के लिए आतंकी मॉड्यूल बनाने के अलावा टाइमर डिवाइस और टीएनटी बमों में विशेषज्ञता विकसित की थी, जिससे उसका नाम डॉक्टर बम पड़ गया।