INDvPAK: विश्व कप में भारत और पाकिस्तान के बीच हुए मुकाबलों का इतिहास

0
https://news4social.com/?p=49403

2019 क्रिकेट वर्ल्ड कप के सबसे बड़े मुकाबले के लिए भारत और पाकिस्तान के प्रशंसक बेसब्री से इंतज़ार कर रहें हैं। यह मैच 16 जून को ओल्ड ट्राफ्फोर्ड ग्राउंड में खेला जायेगा। भारत और पाकिस्तान के बीच विश्व कप में अब तक 6 बार टक्कर हुई है और सभी मैचों में भारत ने जीत दर्ज की है। अगर 2016 में हुए चैंपियंस ट्रॉफी के मैच को छोड़ दिया जाए तो पाकिस्तान ने भारत को कभी भी ICC के टूर्नामेंट में नहीं हराया है।

अगर भारत और पाकिस्तान के बीच हुए मैचों की तुलना की जाए तो इसमें पाकिस्तान का पलड़ा भारी रहा है। दोनों टीमों के बीच हुए 131 मुकाबलों में पाकिस्तान ने 73 मैच जीतें हैं जबकि भारत केवल 54 मैचों में ही जीत दर्ज कर पाया है। लेकिन पिछले बीते दशक में भारत का पलड़ा पाकिस्तान पर भारी रहा है।

2019 विश्व कप की बात की जाए तो अंकतालिका में भारतीय टीम चौथे स्थान पर है जबकि पाकिस्तान आंठवे स्थान पर है अगर कागजों पर देखा जाए तो भारतीय टीम मजबूत दिखाई पड़ती है। पाकिस्तान का प्रदर्शन इस विश्व कप में मिला जुला रहा है।

यह भी पढ़ें: भारत के 10 सबसे खतरनाक चक्रवात जिन्होंने मचाई खूब तबाही

वहीं अगर भारत और पाकिस्तान के बीच विश्व कप के आंकड़ों की बात की जाए तो भारत ने अद्भुत खेल दिखाया है। आइये जानते हैं विश्वकप के उन मुकाबलों के बारें में जिनमे भारत ने पाकिस्तान को पठखनी दी।

1- 1992 वर्ल्ड कप-

पहली बार भारत और पाकिस्तान की टक्कर 1992 में हुई। इसमें भारत की तरफ से मोहम्मद अजहरुद्दीन कप्तान थे। ऑस्ट्रेलिया के सिडनी में खेले गए इस मैच में भारतीय टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 49 ओवरों में 7 विकेट पर 216 रन बनाए थे। जिसमें अजय जडेजा (46), सचिन तेंदुलकर (54*) और कपिल देव (35 रन) ने अच्छी पारी खेली थी।

पाकिस्तान के लिए मुश्ताक अहमद ने 3 और आकिब जावेद ने 2 विकेट लिए थे। जवाब में लक्ष्य का पीछा करते हुए पूरी पाकिस्तानी टीम 48.1 ओवर में 173 रन पर ढेर हो गई थी। भारत की ओर से कपिल देव, मनोज प्रभाकर और जवागल श्रीनाथ तीनों ने 2-2 विकेट लिए थे। भारत ने ये मैच 43 रन से जीता था। सचिन (62 बॉल, 54 रन) को उनकी शानदार बैटिंग के लिए ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया था।

2- 1996 वर्ल्ड कप –

बेंगलुरु में हुए इस मैच में भारत ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी करते हुए 287/8 रन बनाए थे। जिसमें नवजोत सिद्धू (93), अजय जडेजा (45) और सचिन (31) ने अहम पारी खेली थी।

लक्ष्य का पीछा करते हुए पाकिस्तानी टीम 248/9 रन ही बना सकी थी। भारत की ओर से वेंकटेश प्रसाद और अनिल कुंबले ने 3-3 विकेट लिए थे। भारत ने ये मुकाबला 39 रन से जीता था। सिद्धू (115 बॉल, 93 रन) को उनकी शानदार पारी के लिए ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया था।

3- 1999 वर्ल्ड कप-

इंग्लैंड के मैनचेस्टर में खेले गए इस मैच में भारत ने टॉस जीतकर बैटिंग को चुना था और 50 ओवरों में 6 विकेट पर 227 रन बनाए थे। जिसमें सचिन तेंदुलकर ने 45, राहुल द्रविड़ ने 61 और मोहम्मद अजहरुद्दीन ने 59 रन का योगदान दिया था।

लक्ष्य का पीछा करते हुए पूरी पाकिस्तानी टीम 45.3 ओवरों में 180 रन पर ढेर हो गई थी। भारत ये मुकाबला 47 रन से जीता था। मैच में भारत की ओर से वेंकटेश प्रसाद ने जबरदस्त गेंदबाजी करते हुए 9.3 ओवरों में 27 देकर 5 विकेट झटके थे, जिसके बाद उन्हें ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया था।

4- 2003 वर्ल्ड कप-

2003 वर्ल्ड कप में पाकिस्तान ने दक्षिण अफ्रीका के सेंचुरियन में खेले गए इस मुकाबले में पाकिस्तान ने पहले बैटिंग करते हुए 50 ओवरों में 273/7 रन का स्कोर बनाया। जिसमें सईद अनवर ने 101 रन की पारी खेली।

लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने 45.4 ओवरों में 4 विकेट पर 276 रन बनाकर मैच जीत लिया था। भारत की ओर से सचिन तेंदुलकर ने जबरदस्त बल्लेबाजी की थी और 75 बॉल पर 98 रन बनाए थे। उनके अलावा राहुल द्रविड़ ने 44* और युवराज सिंह ने 50* रन की पारी खेली थी। भारत ने यह मैच 6 विकेट से जीता था। सचिन को उनकी बेहतरीन इनिंग के लिए ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया था।

5- 2011 वर्ल्ड कप-

मोहाली में पाकिस्तान के खिलाफ हुए विश्व कप के इस मुकाबले में भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवरों में 260/9 रन बनाए। जिसमें सचिन ने सबसे ज्यादा 85 रन बनाए।

लक्ष्य का पीछा करते हुए पूरी पाकिस्तानी टीम 49.5 ओवरों में 231 रन पर ढेर हो गई। इस मैच में भारत की ओर से पांच गेंदबाजों ने गेंदबाजी की थी और सभी को 2-2 विकेट मिले थे। जिसकी बदौलत भारत ने ये मैच 29 रन से जीत लिया था। सचिन को उनकी पारी के लिए ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया था।

6- 2015 वर्ल्ड कप-

ऑस्ट्रेलिया के एडिलेड में खेले गए इस मैच में भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 50 ओवरों में 7 विकेट पर 300 रन बनाए। जिसमें विराट कोहली ने 107, सुरेश रैना ने 74 और शिखर धवन ने 73 रन की इनिंग खेली थी।

लक्ष्य का पीछा करते हुए पूरी पाकिस्तानी टीम 47 ओवरों में 224 रन पर ढेर हो गई थी। भारत की ओर से मोहम्मद शमी ने जबरदस्त बॉलिंग की और 9 ओवरों में 35 रन देकर 4 विकेट झटके थे। मैच में विराट (126 बॉल पर 107 रन) को उनकी इनिंग के लिए ‘प्लेयर ऑफ द मैच’ चुना गया था।