इस कॉलेज में लड़कियों को देना पड़ा “शुद्ध” होने का प्रमाण

gujrat
gujrat

विद्या का मंदिर कहे जाने वाले स्कूल ,कॉलेज में ही अगर शर्मनाक हरकत हो और प्रिंसिपल ही अगर स्टूडेंट्स से शुद्धता का सबूत मांगे तो ऐसे में क्या करना चाहिए ? गुजरात के भुज के श्री सहजानंद कॉलेज की प्रिंसिपल ने एक शर्मनाक हरकत की है जिसे जानकार आप भी हैरान हो जायेगे। कॉलेज की प्रिंसिपल ने 68 लड़कियों की अंडरवियर उतरवाकर इस बात की जांच कराई कि वे मासिक धर्म (Periods) से गुजर रही हैं या नहीं। यह भी खबर सामने आई कि लड़कियों को कॉलेज में पीरियड्स के दौरान किसी भी अन्य छात्र या छात्रा से हाथ मिलाने या गले मिलने तक भी परमिशन नहीं देश को आजाद हुए 70 साल से अधिक का वक़्त हो गया है। लेकिन आज भी लोग दकियानूसी विचारधारा लोगो पर थोप रहे है।

नौबत यहाँ तक आ गई की प्रिंसिपल द्वारा यह भी आदेश जारी किया गया की जो स्टूडेंट्स पीरियड्स से गुजर रही वो मंदिर तक नहीं जा सकती।. मंदिर के बाहर भी बोर्ड लगाकर इस बात की सूचना दी जा रही है. इतना ही नहीं लड़कियों को कॉलेज और मंदिर के रसोई से भी दूर रहनेके आदेश दिए गया है।

श्री सहजानंद कॉलेज को स्वामीनारायण मंदिर के भक्त लोग मिलकर चलाते हैं. इस कॉलेज के प्रिंसिपल ने कहा कि हमें शिकायत मिली थी कि पीरियड्स से गुजर रही लड़कियां कॉलेज में लोगों से हाथ मिला रही हैं. मंदिर में जा रही हैं साथ ही किचन में भी प्रवेश कर रही है। इस बात का पता लगने के लिए कॉलेज स्टाफ लड़कियों को पहले वॉशरूम में ले गए फिर वहां उनके कपड़े उतरवाकर इसकी जांच कराई गई।

यह भी पढ़ें : 7 बच्चों की 60 साल की महिला ने 22 साल के लड़के से लड़ाया इश्क, दर्ज हुई FIR

यह भी खबर सामने आई की कॉलेज में लड़कियों के साथ इस तरह का सुलुख अक्सर होता है। इस घटना के बारे में माता-पिता को भावनात्मक रूप ब्लैकमेल किया जा रहा है. उनसे कॉलेज और मंदिर ट्रस्ट की तरफ से कहा जा रहा है कि इस बारे में पुलिस तक बात न पहुंचे। हालांकि अब यह खबर सामने आगई है तो पुलिस की तरफ से कड़ी करवाई की उम्मीद की जा रही है।