फारूक अब्दुल्ला की बहन और बेटी को लिया हिरासत में

0
article370
फारूक अब्दुल्ला की बहन और बेटी को लिया हिरासत में

जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के काफी दिन बीत चुके हैं. लेकिन अभी भी इसको लेकर विरोध प्रदर्शन सियासी जग जारी हैं. वहीं विरोध प्रदर्शन के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला की बहन और बेटी को हिरासत में लिया गया है.

बता दें कि मंगलवार को पहली बार अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद महिलाओं का विरोध प्रदर्शन देखने को मिला. नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष और पर्व मुख्यमंत्री फारुक अब्दुल्ला की बहन सुरैया व बेटी साफिया को सीआरपीएफ की महिला बटालियन ने हिरासत में लिया है. हालांकि अभी तक इस बात की पुष्टि नहीं हो पाई है कि विरोध प्रदर्शन किस संगठन या फिर पार्टी के नेतृत्व में किया गया है.

घाटी में पोस्टपेड मोबाइल सेवा शुरू होने के साथ ही हालात सामान्य हैं, वहीं जो सुरक्षाबल घाटी में तैनात है, उन्होंने घाटी पर हो रहे सभी गतिविधियों पर पैनी नजर बनाए हुए है. वहीं जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती इस समय हिरासत में हैं. इसके बाद अब उन्हें लगातार हिरासत में रखे जाने को लेकर कई सावल उठाएं जा रहे है.

इन सवालो के जबाब देते हुए अमित शाह ने कहा है कि उन्हें सार्वजनिक सुरक्षा अधिनियम के तहत हिरासत में लिया गया था. इस बारें में मीडिया से रूबरू होकर शाह ने बताया है कि ‘उनको पीएसए के तहत अभी हिरासत में रखा है’ इसी बयान वाले वीडियो को भाजपा ने अपने ट्विटर हैंडल पर साझा किया है.

यह भी पढे़ं : जानते है क्या है IMC 2019 और क्यों हो रहा है भारत में इसका जोरो शोरो से स्वागत

जब इन नेताओं को हिरासत में रखने को लेकर सवाल किया गया, तो अमित शाह का जवाब आया कि ‘अनुच्छेद 370 को हटाने के बाद जब घटना ताजी थी, तब निश्चित तौर पर लोगों के लिए यह झटका था जोकि सामान्य है. यदि कोई उकसाने की कोशिश करता है, तो जाहिर है कि स्थिति को नियंत्रित करने में समस्या होगी’