अपनी पहली नौकरी में ये गलतियां बिल्कुल न करें

0
JOB

दरअसल, कॉलेज से पास आउट होने के बाद नौकरी की तलाश करने वाले युवाओं में अक्सर पहली नौकर लगने पर एक चिंता होती है और यह चिंता स्वाभाविक है कि नई कंपनी में माहौल क्या होगा, कल्चर क्या है, मुझे क्या करना चाहिए और क्या नहीं। तो चिंता बिल्कुल मत कीजिए, इस लेख के ज़रिए किसी कंपनी में सेलेक्शन होने पर पहली नौकरी के दौरान नौजवानों को क्या ग़लतियां नहीं करनी चाहिए, उसके बारे में विस्तार से बताया गया है। यक़ीन मानिए इस लेख के माध्यम से दी गई सलाह किसी प्राइवेट या सरकारी कंपनी में चयनित होकर पहली बार नौकरी करने वाले लोगों के लिए बेहद ज़रूरी है। इस लेख में विस्तारित की गई सही व सटीक नसीहत को अपनाएं और अपनी प्रोफेशनल लाइफ़ को संवारें।

Loading...

1- कॉरपोरेट जीवन और कॉलेज जीवन-  दरअसल, जब आप कॉलेज से डिग्री हासिल करके अपनी कॉरपोरेट लाइफ की शुरूआत अपनी पहली नौकरी से करते हैं तो तक़रीबन यह संभावना ज़्यादा बनी रहती है कि जो आपने कॉलेज में सीखा है वह आप कॉरेपोरेट लाइफ में अप्लाई करने की कोशिश करते हैं। याद रखिए कॉरपोरेट लाइफ कॉलेज लाइफ बिल्कुल अलग है। ऐसे में सिर्फ़ आपको यह करना है कि जहां आप काम कर रहे हैं वहां पर अपने वरिष्ठों का काम करने की तरीक़ा सीखकर अपनी ख़ुद का तरीक़ा ईजाद करें ताकि आप उस प्रोफेशन में सफल पाओ।

2- वरिष्ठों के सौंपे गए काम को तुरंत करें- दरअसल, जिस भी कंपनी में आप पहली मर्तबा नौकरी करने जाएंगे तो वहां हमेशा आपका सामना उस कंपनी में सालों से काम करे रहे सीनियरस् से होगा। ऐसे में अब आपके सामने में उस वातावरण में ख़ुद को संयमित रखना एक अहम चुनौती होगा। सीनियरस् कॉरेपोरेट के काम के अलावा आपसे छोटे-मोटे काम करवाएंगे, जैसे पानी लाना, एक फाइल को दूसरी जगह पहुंचाना। ये छोटे-मोटे काम करवाकर आपके सीनियरस् आपका बर्ताव व मानसिक संतुलन देखना चाहते हैं। ऐसे में जब भी आपके सीनियरस् कुछ काम करने को कहे तो तुरंत करना क्योंकि वही आपके काम के बारे में सिखाकर आपके के लिए तरक़्क़ी के दरवाज़े खोल सकता है।

3- प्रभाव छोड़ें – प्रभाव छोड़ना किसी भी क्षेत्र में आगे बढ़ना का सबसे बेहतरीन तरीक़ा है। नौकरी के पहले दिन जिससे भी आप मिलें चाहे, वह बॉस हो या कोई कर्मचारी हर किसी पर अपने बात करने के तरीक़े का, चेहरे के भावों का व अपने व्यक्तित्व का गहरा प्रभाव छोड़ें क्योंकि कंपनी में सिर्फ़ उसी शख़्स की बात होती है जो प्रभावशाली होता है।

4- डर का करें सामना – प्राइवेट या सरकारी नौकरी के पहले दिन अमूमन हर किसी के मन थोड़ा-सा तो डर होता ही है क्योंकि आपके पास किसी कंपनी में काम करने का कोई तजुर्बा नहीं है और तजुर्बा न होने से स्वाभाविक है कि डर तो होगा ही। ऐसे में हमारी सलाह यह है कि आप डर का सामना पूरी हिम्मत से करें और हो सके तो उसे दूर करने की कोशिश भी करें।

5 – दिखावा करने से बचें – जैसे हमें बनावटी व दिखावटी फलों की पहचान हो जाती है वैसे ही प्रोफेशनल लाइफ में लोगों को दिखावा करने वाले लोगों की पहचान उनके आचरण से हो जाती है। यह एक ग़लत इम्प्रेशन छोड़ता है। ऐसे में किसी के भी सामने दिखावा करने से बचें और अपने आपको सिर्फ वही दिखाएं जो आप सच में हैं।

ये भी पढ़ें : जानिए, भारत के प्रधानमंत्री को कितनी सैलरी मिलती है ?