जहाँ पूरा देश लड़ रहा है धर्म के नाम पर ,वहीँ गीतांजली चोपड़ा बाँट रही है “Wishes & Blessings”

0

हमारा देश भारत जहाँ अमीर से ज्यादा गरीब लोग रहते है ,रोज़गार से ज़्यादा बरोजगार है और महलों में रहने वालों से ज्यादा बेघर लोग है |21वीं सदी के इस दौर में जहाँ हमारा समय यह सोचने में निकल जाता है कि ,आज कौन सी ड्रेस पहने ,या खाने के लिए कौन से अच्छे रेस्टोरेंट में जाएँ ,इस साल छुट्टियों में घुमने कहाँ जाया जाएं या कौन से लोकेशन पर अपना मनपसन्द घर किया जाए ?वहीं दूसरी तरफ कुछ लोग ऐसे भी है जिनके पास तन ढकने के लिए कपड़े नहीं है ,दो वक़्त का खाना नसीब नहीं होता ,सिर पे छत नहीं है |यहाँ तक की कुछ लोगों के पास शिक्षा जैसा मौलिक अधिकार भी नहीं है |

”Wishes & Blessings” की अध्यक्ष है गीतांजली चोपड़ा
ऐसे लोगों के अँधेरे जीवन में रोशनी की एक किरण बन कर आई ,”गीतांजली चोपड़ा”|जी हाँ ,गीतांजली “Wishes & Blessings” नामक एक संस्था की अध्यक्ष है |संस्था “Wishes & Blessings” की शुरुआत गीतांजली ने साल 2014 में दिल्ली में की थी |इस संस्था का मकसद है हर किसी को जिंदगी में कुछ करने के लिए सपने देखने के लिए प्रेरित करना उनको सशक्त बनाना |

शिक्षा ,स्वास्थ्य और कौशल के स्तर पर कार्य करती है Wishes & Blessings”
“Wishes & Blessings” का लक्ष्य सभी ऐसे बच्चों  या लोगों को शिक्षा ,स्वास्थ्य ,कौशल विकास इत्यादि प्रदान करना जो इस से वंचित रह गए है |आपको बता दें कि इस संस्था के द्वारा दिन में तीन बार बेघर लोगों के लिए  पौष्टिक आहार का इंतज़ाम किया जाता है |साथ ही गीतांजली चोपड़ा ने अपने NGO के द्वारा बच्चों के लिए “बर्थडे प्रोग्राम” शुरू किये है |साथ ही इस संस्था “Wishes & Blessings” ने कई शौचालयों का भी निर्माण कराया है ,साथ ही गरीब लड़कियों का समूहिक विवाह करवाया है और बेघर बच्चो के लिए “डे केयर सेंटर” का  निर्माण भी  |ये संस्था ना सिर्फ बच्चों के लिए या बूढों के लिए बल्कि”Wishes & Blessings” सभी ज़रूरतमंद लोगों की सहायता करती  है |

”मन का तिलक” -एक नया अभियान
अपनी चौथी सालगिरह पर “Wishes & Blessings” ने महिलाओं के लिए “मन का तिलक ” नाम के पहले वृध आश्रम का निर्माण करवाया है |गीतांजली चोपड़ा के इन प्रयासों को हम सलाम करते है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five × two =