8 भूखे दरिंदों ने खेला हवस का खौफनाक खेल, सुनकर कांप उठेगी रूह

0
rapecase
https://news4social.com/wp-content/uploads/2019/08/imgpsh_fullsize_anim-22-6.jpg

करनाल में एक खौफनाक हवस का खेल खेला गया है. जहां पर 8 लोगों ने मिलकर एक महिला के साथ बलात्कार जैसी घटना को अंजाम दिया है. अगर हम यहां पर बात करें, सरकार की तो हरियाणा के मुक्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जहां लड़कियों की सुरक्षा और घटती संख्या को लेकर चिंता दिखा रहें है. यहीं नहीं महिलाओं के खिलाफ होने वालें अपराधों पर नराजगी दिखाते है.

वहीं कानून के रखवाले अपराधियों पर नकेल कसने की पूरी कोशिश करते है. मगर सीएम साहब के गृह जनपद करनाल में ही एक महिला के साथ निर्भया कांड जैसी खौफनाक वारदातों को अंजाम दिया गया है. महिला के साथ एक नहीं दो नहीं बल्कि 8 लोगों ने महिला के साथ बलात्कार किया है.

बता दें कि महिला की जान जिंदगी और मौत के बीच में जूझ रही है. इस बात का अंदाजा हर कोई बखुबी लगा जा सकता है कि 8 लोगों के बलत्कार करने के बाद उसकी जिंदगी कैसी होगी. जब यह मामला पुलिस के सामने आया, तो पुलिस ने इस मामले पर जांच पड़ताल करना शुरू कर दिया.


पुलिस ने बताया कि पीडिता करनाल के रेलवे स्टेशन के प्लेटफर्म पर बैठी हुई थी. जिसके बाद एक युवक आया और उसे खाना खिलाने के बहाने एक औद्योगिक शेड में लेकर चला गया. जहां पर पहले से ही सात लोग मौजूद थे. महिला कुछ समझ पाती इससे पहले ही उन वहशी दरिंदों ने उसे दबोच लिया.

उन हैवानों ने महिला के साथ बारी-बारी कर उसका बलात्कार किया. हवस के भेड़ियों ने देर तक उस महिला के साथ घिनौनी हरकत की. इस महिला के साथ इस वारदात को अंजाम देने के बाद महिला को अधमरी हालत में झोड़कर फरार हो गयें. जब उस महिला को होश आया तो उसने किसी तरह से पुलिस को फोन किया और इस बात सूचना दी.

पुलिस ने महिला का लोकेशन ट्रेस कर वहां पहुंची और महिला को ट्रॉमा सेंटर में भर्ती करा दिया है, लेकिन महिला की हालत काफी खराब है. फिलहाल पिड़िता का इलाज जारी है. इस घटना के बाद पुलिस ने जांच पड़ताल में तेजी कर दी है. घटना स्थल पर लगाए गए सीसीटीव कैमरा को देखा जा रहा है. ताकि उन आरोपियों को पकड़ने के लिए कोई सुराग मिल सके.

यह भी पढें : बाप ने छीना फ़ोन तो बेटी ने बॉयफ्रेंड संग मिलकर किया ये काण्ड

हालांकि इस मामले को लेकर पुलिस जांच पड़ताल में लगी है, साथ ही कह रही है कि आरोपियों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएंगा. अब सवाल यह उठता है कि क्या पुलिस आरोपियों को पकड़ने के लिए ऐसे ही दावें करती रहेगी?