भारत के टॉप 10 start-ups, जो लोगों के लिए है बहुत फायदेमंद

0
https://news4social.com/?p=49033START-UPS

भारत सांस्कृतिक, जमीनी स्तर और नए रोजगार पैदा करने के लिए बेहद उपयुक्त जगह है। एक अरब से अधिक की आबादी वाले इस देश में बिज़नेस मॉडल तैयार करने के लिए स्टार्टअप का एक रोमांचक क्षेत्र बन सकता है।

भारत युवाओं का देश है। यहाँ की लगभग 33 % आबादी 21 साल से कम है। इसलिए भारत के विकास के लिए युवाओं का योगदान बहुत महत्वपूर्ण हो जाता है। यहाँ कुछ स्टार्टअप है जो आगामी आने वाले समय में बहुत बड़ी कंपनी बन सकती है और रोजगार के नए अवसर पैदा कर सकती हैं।

इस लिस्ट में सबसे पहला नंबर आता है Instamojo का-

1- Instamojo– 2012 में स्थापित Instamojo का मुख्यालय बैंगलोर में है। यह भारत का सबसे तेजी से बढ़ता हुआ फुल-स्टॉक ट्रांजैक्शनल प्लेटफ़ॉर्म है जो एमएसएमई व्यापारियों के लिए भुगतान और ई-कॉमर्स के लोकतंत्रीकरण की ओर अग्रसर है। इसके प्रमुख उत्पाद ‘पेमेंट लिंक’ और ‘फ्री ऑनलाइन स्टोर’ हैं।Instamojo छोटे व्यवसायों के लिए प्रक्रियाओं को ऑनलाइन उपलब्ध करने में मदद करता है। यह छोटे व्यापारियों के व्यापर को वित्तीय संस्थानों के साथ संबंध स्थापित करने में मदद करता है, नए विश्व स्तर के लेन-देन के अनुभवों को डिज़ाइन करता है और ऑनलाइन व्यापार करने के लिए जोखिमों को कम करता है।

इस लिस्ट में दूसरा नम्बर आता है ixigo.com-

2- ixigo.com – यह एक ट्रैवेल एजेंसी है। इसका मुख्यालय गुरुग्राम में है। इसके फाउंडर रजनीश कुमार हैं। इस वेबसाइट के तहत आप भारत के किसी भी जगह के बारें में, वहाँ क्या चीज़ प्रसिद्ध है और उसका कितना दाम है, यह सब इसके जरिये पता चलता है। इसके तहत आप दूसरे ट्रैवेलर्स से प्रश्न पूँछ सकते हैं और अगर आप कुछ बता सकते हैं किसी खास जगह के बारें में। इसके तहत आप होटल, रेस्टोरेंट और किसी जगह के बारे में फोटो देख सकते हैं।

3- Unacademy.in– भारत का सबसे बड़ा फ्री में सीखने वाला मंच है। यह छात्रों को पाठ्यक्रमों को पढ़ने में सक्षम बनाते हैं। 100 से अधिक शिक्षकों ने Unacademy.in पर पाठ्यक्रम बनाए हैं। इसका मुख्यालय बेंगलुरु में हैं। इसके तहत आप IIT, सिविल सर्विसेज और SSC एग्जाम की तैयारी कर सकते हैं।

4- Nykaa भारत में नंबर वन ब्यूटी टिप्स देने के मामलें में सबसे बढ़िया ब्रांड हैं। इससे आप अपने पसंदीदा ब्रांडों के लिए सलाह, अपडेट्स और एक्सपर्ट टिप्स के आधार पर हमेशा खूबसूरत दिखने के लिए टिप्स ले सकते हैं। Nykaa महिलाओं और पुरुषों के लिए मेकअप, स्किनकेयर, बालों की देखभाल, परफ्यूम, बॉडी एंड बॉथ और लक्जरी उत्पादों की एक व्यापक चयन सूची पेश करता है।

5- Shuttl- एक ऐसा ऐप है जिसके माध्यम से यूजर दिल्ली NCR, कोलकाता, पुणे, हैदराबाद और मुंबई में फ्री डेली कम्यूटिंग के लिए Shuttl सेवाओं की बुकिंग कर सकते हैं। इसपे आपको सब्सक्रिप्शन चार्ज देना पड़ता है और उसी के हिसाब से आप आपको को गाडी बुक करने में मदद करता है। इसके फाउंडर दीपांशु मालवीय और अमित सिंह हैं।

6- Haptik– दुनिया के सबसे बड़े आर्टिफिशल इंटेलिजेंस प्लेटफार्मों में से एक है। यह 2013 से इस व्यवसाय में हैं। इसके ग्राहकों की सूची में फॉर्च्यून के 500 ब्रांड जैसे सैमसंग, कोका-कोला, फ्यूचर रिटेल, केएफसी, टाटा ग्रुप, आईसीआईसीआई बैंक, महिंद्रा ग्रुप, शामिल हैं। यह कस्टमर्स को सहायता, प्रतिक्रिया, आदेश की स्थिति और लाइव चैट जैसे प्रमुख ग्राहक सहभागिता उपयोग मामलों पर ध्यान केंद्रित करता हैं।

7- Udaan- फ्लिपकार्ट के तीन पूर्व कर्मचारियों द्वारा स्थापित Udaan.com व्यवसायों को भोजन, कपड़े और इलेक्ट्रॉनिक्स खरीदने और बेचने के लिए एक ऑनलाइन बाज़ार है। लॉन्च के सिर्फ दो साल बाद स्टार्ट-अप $ 1 बिलियन के वैल्यूएशन वाली कंपनी हो चुकी है। इसका मुख्यालय बेंगलूर में हैं।

8- Jumbotail- बेंगलुरु स्थित Jumbotail छोटे व्यवसायों के लिए एक ऑनलाइन किराने का बाज़ार है। 2015 में लॉन्च किए गए इस स्टार्ट-अप ने थर्ड पार्टी के ऋणदाताओं के साथ भागीदारी के माध्यम से दुकान-मालिकों के लिए क्रेडिट देना देना शुरू किया था। इसका मुख्यालय बेंगलुरु में है।

9- The Minimalist- डिजाइन एजेंसी The Minimalist ने एक फेसबुक पेज के रूप में अपने मजाकिया कंटेंट के लिए शुरुआत की थी, लेकिन यह अब कोका कोला और वॉरेन बफेट के बर्कशायर हैथवे सहित कई ग्राहकों के साथ काम करती है। इसका मुख्यालय मुंबई में है।

10- LBB – Little Black Book- लिटिल ब्लैक बुक की शुरुआत एक टम्बलर ब्लॉग के रूप में हुई थी, लेकिन अब इसे सांस्कृतिक समाचारों और आयोजनों के लिए एक डिजिटल मंच के रूप में प्रयोग किया जाता है। इसका कवरेज भोजन और फैशन से लेकर थिएटर और शॉपिंग तक आठ प्रमुख भारतीय शहरों में है। इसका कार्यालय दिल्ली, बैंगलोर और मुंबई में हैं।

यह भी पढ़ें- पीएम मोदी ने बताया ‘भारत कैसे बनेगा पांच साल में 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था?’