अमिताभ बच्चन की पहली सेलरी के बारें में सुनकर रह जाएंगे हैरान

0
amitab
अमिताभ बच्चन की पहली सेलरी के बारें में सुनकर रह जाएंगे हैरान

सदी के महानायक अमिताभ बच्चन जिनके फिल्मों और अभिनय के सभी दिवाने है. उनकी फिल्म इतनी दमदार है कि लोग आज भी देखना बहुत पंसद करते है. अमिताभ बच्चन अपना बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे है. अमिताभ 77 साल के हो गए हैं. उनके फैंस में इस खास दिन को लेकर बहुत उत्साह है.

अमिताभ बच्चन जितने खास एक्टर है उतने ही अच्छे वक्ता भी है. लेकिन आज अमिताभ बच्चन जिस खास मुकाम पर है. वहां तक पहुंचना हर किसी के लिए बहुत मुश्किल है. अगर बात करें उनकी संपति कि तो उनके पास करोड़ों की संपति है. अब सभी को यह जानकर हैरान हो जाएंगे की उनकी पहली सैलरी कितनी थी. जिसे सुनकर हर कोई व्यक्ति चौंक सकता है.

दरअसल अमिताभ बच्चन ने अपने एक इंटरव्यू में कहा था कि मैंने जब कोलकाता में नौकरी शुरू की थी तो पहली तनख्वाह 500 रुपये मिली थी. खबरों के मुताबिक अमिताभ बच्चन के पास लगभग 28 अरब से ज्यादा नेट वर्थ है. वहीं 2015 में उनकी 33.5 मिलियन डॉलर की नेट वर्थ है. वहीं अमिताभ बच्चन की पत्नी और समाजवादी पार्टी से सांसद जया बच्चन ने भी अपनी कुल संपत्ति के बारें में बात की थी.

नामांकन के दौरान जया की ओर से दाखिल शपथपत्र में संपत्त‍ि का विवरण भी दिया गया है. इसके मुताबिक, जया और उनके पति अमिताभ बच्चन के पास 10.01 अरब रुपये की संपत्ति है. पिछले छह सालों के दौरान अमिताभ और जया की प्रॉपर्टी डबल हो चुकी है. 2012 में इस स्टार कपल की संपत्ति करीब 500 करोड़ रुपये थी और इस साल प्रॉपर्टी 1000 करोड़ रुपये का आंकड़ा छू चुकी है.

जया और अमिताभ के पास करीब 62 करोड़ रुपये का गोल्ड और ज्वैलरी मौजूद है. हैरानी की बात ये है कि इस मामले में अमिताभ बच्चन ने जया को भी पीछे छोड़ दिया है. जहां जया के नाम पर 26 करोड़ रुपये की ज्वैलरी है. वहीं अमिताभ के नाम पर 36 करोड़ रुपये से भी ज्यादा ज्वैलरी बताई जा रही है.

यह भी पढ़ें : जाने कैसे 15 साल की उम्र में रेखा को जबरन किस करने पर मचा था बवाल

अगर बात करें फिल्म में मिली पहली सैलरी की, तो अमिताभ बच्चन की पहली फिल्म के.ए अब्बास की सात हिंदुस्तानी थी. इस फिल्म के लिए अमिताभ बच्चन को पांच हजार रुपए में साइन किया गया था. हालांकि फिल्म बॉक्स ऑफिस पर कुछ कमाल नहीं कर पाई थी, लेकिन इस फिल्म के लिए अमिताभ बच्चन को अवॉर्ड मिला था. इतना ही नहीं अमिताभ बच्चन ने लैंगिक समानता पर अपने खुलकर विचार रखते आए हैं और उन्होंने बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं कैंपेन के भी एंडोर्स किए था.