होने वाला था आतंकी हमला, पर पंजाब पुलिस ने आतंकियों के मंसूबो को इस तरह किया नाकाम

0
crime
होने वाला था आतंकी हमला, पर पंजाब पुलिस ने आतंकियों के मंसूबो को इस तरह किया नाकाम

पंजाब पुलिस को रविवार के दिन एक बड़ी कामयाबी मिली है. राज्य पुलिस ने पंजाब और आसपास के राज्यों में आतंकी हमले की साजिश को नाकाम किया है. आईए जानते है इस पूरे मामले के बारें में.

तरन तारन में 4 सितंबर को हुए ब्लास्ट से जुड़े मामलो में ‘खालिस्तान ज़िंदाबाद फोर्स’ के चार आतंकियों को पकड़ने में कामयाबी मिली है. साथ ही तरन तारन से भारी मात्रा में हथियार, गोला-बारूद और सैटेलाइट फोन ज़ब्त कर लिए गए है. इस मामले में जिन लोगों को गिरफ्तार किया गया है उनके नाम है बलवंत सिंह उर्फ़ निहंग, आकाशदीप सिंह उर्फ़ आकाश रंधावा, हरभजन सिंह और बलवीर सिंह.

बता दें कि इनकी गिरफ्तारी रवीवार को कि गई है गिरफ्तार किए गए आंतकियों से 16 मैगज़ीन और 472 राउंड के साथ 5 एके 47 राइफल, 4 चीन निर्मित पाइंट 30 बोर की रिवाल्वर, 9 हथगोले, 5 सैटेलाइट फोन, 2 मोबाइल ओन, 2 वायरलेस सेट और 10 लाख की नकली करेंसी को बरामद किया है.

यही नहीं इन चारों को ब्लास्ट केस में पहले भी गिरफ्तार किया गया था. जब इनसे पूछताछ की गई तो इनके इरादो के बारें में पता चला इन आतंकवादियों ने खालिस्तानी संगठनों के मंसूबों को लेकर अहम जानकारी दी. इस बात की जानकारी मिलते ही पुलिस ने इस मामले पर सख्ती से जांचपड़ताल करना शुरू कर दिया. वहीं पुलिस की जांच से खुलासा हुआ है कि इन आतंकवादियों तक हथियारों की खेप पाकिस्तान के एक ड्रोन के जरिए सप्लाई हुई है.

इसमें सबसे हैरानी की बात ये है कि किस तरह से हथियारों और अन्य सामान के साथ ड्रोन सरहद पार कर भारत के क्षेत्र में आने में कामयाब हो गए है. जब पुलिस ने गिरफ्तार हुए आतंकियों से पूछताछ की तो इन लोगों ने इसमें शिरोमणि अकाली दल, बीजेपी और शिवसेने से जुड़े कुछ नेताओं के नाम पुलिस को बताए. ये नेता आतंकियों के निशाने पर थे

यह भी पढ़ें : बाप बेटी मिलकर बिछाते थे हनी ट्रैप का जाल

वहीं यह भी कबूल किया कि वो डेरा नेताओं को मारना चाहते थे और उन्हें ऐसा करने के लिए ‘सिख फॉर जस्टिस’ से निर्देश मिले थे. चार खालिस्तानी आतंकियों के हथियार और गोला-बारूद के साथ गिरफ्तार होने के बाद सभी भारतीय सुरक्षा एजेंसियां चौकन्नी हो गई हैं.