महिला वकील की निर्भया के दोषियों को माफ़ करने की सलाह पर , निर्भया की माँ ने जताई नाराजगी

0
nirbhaya case
nirbhaya case

देश में लड़कियों के साथ हो रहे दुष्कर्म का सिलसिला थमने का नाम ही नहीं ले रहा सरकार भी इस संदर्भ में चुप्पी साधे हुए है। निर्भया केस को लगभग 8 साल से भी ज्यादा का समय हो गया है और अभी तक उसके दोषियों को सजा नहीं मिली है। उनकी फाँसी की सज़ा की तारीख दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है। जिससे पूरा देश आग बबूला हो उठा है। इसी बीच देश की जानी -मानी वकीलों में शुमार ने कुछ ऐसा बोलै जिसकी उम्मीद उनसे नहीं की जा सकती थी।

उन्होंने निर्भया की मां आशा देवी से अपील की है कि वे अपने बेटी के बलात्कारियों को माफ कर दें. महिला वकील; ने इसके लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का हवाला दिया है और कहा है कि सोनिया ने जिस तरह राजीव गांधी हत्याकांड की दोषी नलिनी की मौत की सजा माफ कर दी है, ऐसा ही उदाहरण आशा देवी को देना चाहिए।

एक वकील होने के नाते साथ ही एक महिला की तरफ से ऐसा बयान आना काफी गलत है। साथ ही महिला वकील ने यह भी कहा कि वे आशा देवी के दर्द और वेदना को समझती हैं, लेकिन मृत्युदंड के खिलाफ है।

महिला वकील के इस बयान पर निर्भया की माँ की कड़ी प्रतिक्रिया सामने आई, उन्होंने कहा की महिला वकील की अपील पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है और कहा है कि महिला वकील उन्हें सलाह देने वाली कौन होती हैं, उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों की वजह से ही रेप पीड़ितों के साथ इंसाफ नहीं हो पाता है।

यह भी पढ़ें : अरविंद केजरीवाल ने योगी सरकार पर साधा निशान, यूपी में बिल तो आता है बिजली नहीं

देश में जहां हर एक दिन लड़कियों के साथ दुष्कर्म हो रहा उसने रोकने के लिए जहां वकीलों को सुझाव देने चाहिए की ऐसे क्या सख्त कानों लेन चाहिए जिससे देश में लड़कियों के साथ दुष्कर्म न हो और उन्हें देश में एक सुरक्षित माहौल मिल। महिला वकील के बयां की जितनी भी निंदा की जाए वो गलत नहीं होगा।