जानिए क्या नए पहलु सामने आये कमलेश तिवारी हत्या कांड में ?

0
kamlesh tiwari
xmlskwl

हिन्दू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी की हत्या मामले की तफ्तीश जोरो पर चल रही है , बता दे की कमलेश तिवारी एक हिंदू राष्ट्रवादी कार्यकर्ता और राजनीतिज्ञ थे , जिन्होंने 2017 में हिंदू समाज पार्टी की स्थापना की थी और उसका नेतृत्व करते थे और मुस्लिम पक्ष के विरोध की वजह से काफी बार विवादों में भी आये।

नेता कमलेश तिवारी की हत्या मामला सामने आया है , जिन पर भी उनकी हत्या में शामिल होने का संदेह है उन्हें पुलिस ने धरदबोचा है, गुजरात एटीएस ने सूरत से तीन संदिग्धों को हिरासत में लिया है। सूरत क्राइम ब्रांच की मदद से गुजरात एटीएस ने कार्रवाई को अंजाम दिया है एटीएस ने राशिद, मोहसिन और फजल नाम के तीन संदिग्धों को गिरफत में ले लिया है। उनसे पूछताछ का सिलसिला जारी है। कमलेश तिवारी मर्डर के बाद घटनास्थल से एक मिठाई का डिब्बा भी वरामत हुआ जिस पर सूरत की एक दुकान का नाम छपा था।

यूपी पुलिस भी गुजरात एटीएस के लगातार संपर्क में है। इस केस में जल्द ही अहम् खुलासे हो सकते है उनका कहना है कि अभी पुलिस की छानबीन चल रही है। पुलिस को सीसीटीवी फुटेज और अन्य सबूतों के आधार पर कुछ अहम सुराग मिले हैं। पुलिस को कुछ कॉल डीटेल्स भी हाथ लगे हैं। मामले की पड़ताल के लिए पुलिस की कई टीम बनाई जा रही है । साथ ही स्पेशल टास्क फोर्स की भी मदद ली जा रही है।

कमलेश तिवारी हत्या कांड में किसी जानकार के होने की पूरी संभावनाएं प्रतीत हो रही है, कागि दिनों से कमलेश तिवारी को पुलिस द्वारा हाई प्रोटेक्शन मिल रही थी , उसके बावजूद ऐसी घटना होना किसी को भी शक के दयारे में ला कर खड़ा कर सकता है , खबरों के अनुसार कमलेश तिवारी के घर पर हमेशा एक सुरक्षाकर्मी तैनात रहता था , वारदात वाले दिन भी सुरक्षा कर्मी उनके घर के नीचे तैनात था जिसने हत्यारों को रोका और कमलेश से पूछ कर ही उन्हें घर के अंदर जाने दिया।

कमलेश तिवारी आतंकी संगठन आईएसआईएस की हिट लिस्ट में थे। यह खुलासा गुजरात एटीएस द्वारा 25 अक्टूबर 2017 को सूरत से गिरफ्तार किए गए संदिग्ध उबेद अहमद मिर्जा और मोहम्मद कासिम स्टिंबरवाला से पूछताछ में हुआ था। 20 अप्रैल 2018 को गुजरात एटीएस द्वारा दाखिल की गई चार्जशीट के मुताबिक उबेद ने अपने दो साथियों को कमलेश तिवारी के विवादित बयान वाला विडियो दिखाते हुए कहा था कि हम लोगों को इसकी हत्या करनी है।

यह भी पढ़ें : सपना चौधरी BJP के विरोधी उम्मीदवार गोपाल कांडा के लिए करेगी प्रचार, पार्टी में मचा हड़कंप

कमलेश तिवारी हत्या कांड में अलग अलग पहलु सामने आ रहे है , बहुत से लोग शक के घेरे में है , पुलिस फाॅर्स इस कांड के तह तक जाने के लिए सारे पहलू को अचे से खंगाल रही है और जल्द से जल्द असली कातिल तक पहुंचने की कोशिश में है।