निर्भयाकांड जैसा दर्दनाक हादसा, लेडी डॉक्टर की मिली जली हुई लाश

0

निर्भय हादसे के बाद ऐसा लग रहा था की अब देश में लड़कियों के साथ हो रहे दुष्कर्म में विराम चिन्ह लगेगा। लेकिन नहीं उसके बाद भी रेप की घटना देश में बढ़ती ही गयी। हैदराबाद से एक दिल देहलानी वाली खबर सामने आयी है। सुबहे से सोशल मीडिया में एक मामला ट्रेंड कर रहा है। प्रियंका रेड्डी एक वेटरनरी डॉक्टर ड्यूटी के ल‍िए हॉस्प‍िटल जाती है। शाम को ड्यूटी से आते वक़्त एक बड़ी वारदात का शिकार बन जाती है। प्रियंका ने कभी कल्पना भी नहीं की होगी की वो इतने बड़े हादसे का शिकार बन जाएगी। क्या गलती थी प्रियंका की क्या गलती है। उन हज़रो लाखो करोड़ो लड़कियों की जो अभी आपने ही देश में सुरक्षित नहीं है।

शाम को अपनी ड्यूटी ख़त्म करके प्रियंका घर को रवाना हुई, घर लौटते समय रस्ते में उनकी स्कूटी पंक्चर हो जाती है, जिसकी जानकारी वो कॉल करके अपनी बहन को देती है। अपनी बहन को फ़ोन पर वो यह बताती है की उनकी स्कूटी पंचर होगयी और कुछ लोग उसकी हेल्प के लिए बोल रहे है, बाद में बात करती हूँ । फिर क्या उसके बाद उनका फ़ोन स्विच ऑफ आने लगा और सुबह जो हुआ उसकी कोई कल्पना भी नहीं कर सकता था। सुबह पुल‍िस को एक जली हुई बॉडी म‍िलती है जो मह‍िला डॉक्टर की न‍िकली।

प्रियंका ने अपनी बहन से फ़ोन पे बात करते हुए कहा की उन्हें डर लग रहा है. इस पर बहन ने प्रियंका को टोल प्लाजा जाने और कैब से आने की सलाह दी थी.उसके बाद परिजनों ने शादनगर टोल प्लाजा के पास प्रियंका की खोजबीन की, लेकिन वह नहीं मिली. सुबह शादनगर के अंडरपास के पास उसकी जली हुई लाश मिली।

खबरों के अनुसर एक लड़का डॉक्टर प्रियंका की स्कूटी लेकर बुधवार की रात के 9.30 बजे उसके यहां आया था. वह स्कूटी छोड़ गया. पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज कर तहकीकात शुरू कर दी है।

हैदराबाद पुलिस डॉक्टर प्रियंका की हत्या की गुत्थी सुलझाने की कोशिशों में जुटी गयी है, पुलिस सीसीटीवी फुटेज और कॉल लॉग को खंगाल रही है की कही कोई सबूत मिल जाए। खबर यह भी है की अज्ञात व्यक्ति ने महिला की हत्या कर उसके शव को आग लगा दी. सभी पहलुओं को देखते हुए तहकीकात की जा रही है। तहकीकात से यह पता चल रहा है की डॉक्टर की बॉडी जिस हालत में मिली है क‍ि मह‍िला के साथ दुष्कर्म हुआ और बाद में उसकी हत्या कर दी गई। पहचान छ‍िपाने के ल‍िए उसकी बॉडी को जला द‍िया गया, चूंक‍ि बॉडी काफी जल चुकी है इसल‍िए अभी कुछ भी कहना या किसी निष्कर्ष में पहुचना गलत होगा।

जहां विदेश में हमारी देश की सरकार आपने पंचम का झंडा फेरा रही है, देश की एक अलग छवि प्रस्तुत कर रही है वही इस देश की इस भारत की महिलाएं सुरक्षित नहीं है। आखिर कौन देगा इसका जवाब आखिर क्या गलती थी प्रियंका रेड्डी की उनको इतनी दर्दनाक मौत से गुज़ारना पड़ा, कब तक हमारी देश की महिलाएं इस दर्दनाक स्थति से गुज़रेगी कब रूकेगी ऐसी वारदात क्यों सरकार मौन धरने किये हुए है कितने भी कैंडल मार्च या धरना प्रदर्शन कर दे, जबतक सरकार कोई ठोस कदम नहीं उठएगी।

यह भी पढ़ें : हरियाणा: एक ऐसा गैंग जो हत्या करके फेसबुक पर पोस्ट डालके लोगों की सहानुभूति लेता है, जाने-

देश की महिलाओं को सुरक्षा वातावरण नहीं प्रदान करेगी तब तक इन दरिंदो का साहस बढ़ता जाएगा और क्या महिलाओ को बिना किसी कसूर के इस भायंका प्रस्थिति का सामना करना होग। जिस देश में महिलाओं को देवी का रूप माना गया है उस देवी के साथ इतना भयानक सलूख !