8 नवंबर को श्राद्ध दिवस के रूप में मनाएंगे लालू

0

बिहार में नोटबंदी के ख़िलाफ राष्ट्रीय जनता दल (राजद) 8 नवंबर को न केवल काला दिवस बल्कि श्राद्ध दिवस के रूप में मनाएगी। ये घोषणा ख़ुद पार्टी सुप्रीमो लालू यादव ने रांची में की है। लालू इन दिनों चारा घोटाले के विभिन्न मामलों की सुनवाई के सिलसिले में रांची में हैं। उन्होंने कहा कि बुधवार को नोटबंदी के एक साल पूरा होने पर 18 दल के कार्यकर्ता सड़क पर उतरेंगे। लालू का कहना है कि काला धन की वापसी पर मोदी सरकार आई लेकिन इसकी सारी घोषणा हवा हवाई हो गई।


लालू नोटबंदी पर ग़रीबों को हुई मुश्किलों को प्रमुख आधार बनाते हुए जनता को गोलबंद करने की कोशिश कर रहे हैं। उन्हें इस बात का भरोसा है कि नोटबंदी से ऐसा कोई फ़ायदा नहीं हुआ जिसका जनता पर असर पड़े। हालांकि जनता शुरू में इस मुद्दे पर चुप थी क्योंकि उसे ये भरोसा दिलाया गया था कि काला धन वाले लोगों के ख़िलाफ़ सरकार की इस कार्रवाई से आख़िरकार लाभ उन्हें ही मिलेगा।

लेकिन इस मुद्दे से केंद्र की भाजपा सरकार को कितना लाभ हुआ या नहीं राजद अध्यक्ष लालू यादव को व्यक्तिगत नुकसान काफी उठाना पड़ा। उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी के आरोपों की माने तो नोटबंदी के चार दिन बाद लालू यादव ने अपनी बेनामी संपत्ति अपने और परिवार के लोगों के नाम जो कराने की कोशिश शुरू की उसी के चक्कर  में सरकार से जाना पड़ा और संपत्ति भी सारी जब्त हो गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

sixteen + 11 =