ISRO साइंटिस्ट की संदिग्ध मौत

0
6
6

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के राष्ट्रीय रिमोट सेंसिंग सेंटर (एनआरएससी) के वैज्ञानिक हैदराबाद के आपने फ्लैट में मृत पाए गए । 56 वर्षीय एस सुरेश को अमीरपेट इलाके में अन्नपूर्णा अपार्टमेंट में अपने फ्लैट में मार डाला गया। केरल के रहने वाले सुरेश अपने फ्लैट में अकेले थे। जब उन्होंने मंगलवार को कार्यालय को सूचना नहीं दी, तो उनके सहयोगियों ने उन्हें कॉल किया। परन्तु उनकी तरफ से कोई भी जवाब नहीं आया। फिर उनके सहयोगी ने उनकी पत्नी इंदिरा को कॉल करके सूचित किया जो चेन्नई के ऐक बैंक में काम करती है।

वैज्ञानिक सुरेश की पत्नी इंदिरा अपने परिवार के सदस्यो के साथ हैदराबाद पुहंची और उन्होंने पुलिस से संपर्क किया जब वो फ्लैट पर पुहंचे तो लॉक तोड़ना पड़ा और दवाजा खुलते ही सुरेश के परिवार के होश उड़ गए। सुरेश मृत पाए गए। उनकी जान जा चुकी थी। पुलिस को संदेह है की उनके सिर पर किसी भारी वस्तु से वार किया गया है , जिसेस उनकी मौत होगयी। अभी फिलाल उनकी बॉडी पोस्टमॉर्टम के लिए गयी है।

सीनियर पुलिस की टीम घटनास्थल पर पुहंची, और सबूत जुटाने में लग गए है। अपार्टमेंट की फुटेज cctv को भी जांच की जायेगी। cctv फुटेज से ही पुख़्ता सबूत मिलसकते है और आगे की करवाई पर पुहंचा जा सकता है।

सुरेश 20 साल से हैदराबाद में रह रहे थे। उनकी पत्नी भी शहर में काम कर रही थीं, लेकिन 2005 से काम के सिलसिले से चेन्नई शिफ्ट गईं। उनका बेटा अमेरिका में बस गया है, जबकि बेटी नई दिल्ली में रहती है।

ISRO के वैज्ञानिक के साथ इस तरह की घटना होना वाकिये ही अचंभे में डालती है। ISRO के वैज्ञानिक विदेश की लाखो से भी ज्य्दा की जॉब छोड़ कर भारत की उन्नति के लिए पुरजोर प्रयास कर रहे है उनके साथ ऐसा हादसा होना बहुत ही निंदनीय है।