क्या बाजरे की रोटी खाना सेहत के लिए फायदेमंद है?

क्या बाजरे की रोटी खाना सेहत के लिए...
क्या बाजरे की रोटी खाना सेहत के लिए...

आमतौर पर ज्यादा तर लोग हम सभी के घरों में गेंहूं के आटे से बनी रोटियां ही खायी जाती हैं, लेकिन कई जगहों पर लोग गेंहू की जगह बाजरे की रोटी खाना पसंद करते हैं और बात अगर सर्दियों की हो तो लोग बाजरे की रोटी खाना लोगों को बेहद पंसद करते है. बाजरे की रोटी खाने से कई फायदे होते है.

बाजरा न केवल पाचन क्रिया को दुरूस्त रखने का काम करता है बल्कि यह कई बीमारियों से भी बचाता है. बाजरे की रोटी के फायदे और स्‍वास्‍थ्‍य लाभ बहुत अधिक होने के कारण कई स्‍वास्‍थ्‍य सलाहकारों द्वारा बाजरा के उपभोग की सलाह दी जाती है. बाजरा बहुत महंगा नहीं होता है.

बाजरे की रोटी
बाजरे की रोटी

इसी वजह से सभी लोग आसानी से इस्‍तेमाल करते हैं. बाजरा के स्‍वास्‍थ्‍य लाभों में अस्‍थमा को रोकना, खराब कोलेस्‍ट्रोल को कम करना, शरीर से विषाक्‍त पदार्थों को साफ करना, मधुमेह को कम करना, दिल से संबंधित स्‍वास्‍थ्‍य और कैंसर के खतरे को कम करना आदि शामिल है. आईए जानते है कि इसके क्या फायदें है.

एनर्जी के लिए
बाजरा खाने से एनर्जी मिलती है. यह ऊर्जा का एक बहुत अच्छा स्त्रोत है. इसके अलावा अगर आप वजन घटाना चाहते है तो फिर आप बाजरे से बनी चीजों को खा सकते है. यह आपके लिए फायदेमंद होगा. दरअसल, बाजरे की रोटी खाने के बाद काफी देर तक भूख नहीं लगती है. जिससे वजन कंट्रोल करने में मदद मिलती है.

बाजरे की रोटी
बाजरे की रोटी

स्वस्थ दिल के लिए
बाजरा कोलस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल करने में मदद करता है. जिससे दिल से जुड़ी बीमारियों के होने का खतरा कम हो जाता है. इसके अलावा ये मैग्नीशियम और पोटैशियम का भी अच्छा स्त्रोत है जो ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने में मददगार है.

पाचन क्रिया को दुरुस्त रखने में सहायक
बाजरे में भरपूर मात्रा में फाइबर्स पाए जाते हैं जो पाचन क्रिया को दुरुस्त रखने में सहायक हैं. बाजरा खाने से कब्ज की समस्या नहीं होती है.

यह भी पढ़ें : सवाल 144: आखिर क्यों खाया था पांडवों ने अपने मृत पिता का मांस?

डायबिटीज से बचाव
कई अध्ययनों में कहा गया है कि बाजरा कैंसर से बचाव में सहायक है. पर यह न केवल कैंसर से बचाव में सहायक है बल्कि इसके नियमित सेवन से डायबिटीज का खतरा भी कम हो जाता है. डायबिटीज के मरीजों को इसके नियमित सेवन की सलाह दी जाती है.