सवाल 121- असुरक्षित यौन संबंध के कितने दिन बाद गर्भावस्था जांच कर सकते हैं ?

0
health
सवाल 121- असुरक्षित यौन संबंध के कितने दिन बाद गर्भावस्था जांच कर सकते हैं ?

वैसे तो बहुत से कारण ऐसे होते हैं जिसकी वजह से महिलाओं के पीरियड्स मिस हो जाते हैं, लेकिन जब भी सबसे पहले महिलाओं के मन मे ख्याल आता है वह प्रेग्नेंसी का होता हैं. उनके मन यह ऐसा ख्याल आता है. कहीं वह प्रेग्नेंट तो नहीं हो गई, हर महिला के लिए माँ बनने की खुशी बहुत बड़ी होती है, लेकिन कई महिलाएं ऐसी होती है जो कि अनचाही प्रेग्नेंसी से बचना चाहती है. ऐसे वह प्रेग्नेंसी टेस्ट करके अपने मन की चिंता को दूर कर सकती हैं.

यह कह पाना मुश्किल है कि गर्भवती होने में वास्तव में कितना समय लगता है. ध्यान दें कि ये केवल औसत आंकड़ें हैं. कुछ दंपत्तियों की मासिक जनन क्षमता काफी ज्यादा होती है. इसका मतलब है कि किसी भी महीने में उनके गर्भधारण की संभावना औसत से अधिक होती है. इसी कारण उनके घर जल्दी खुशखबरी आने की उम्मीद होती है,

Install Kare Flipcart App aur Paaye Rs.500 PayTm Par Turant

वहीं अगर दंपत्तियों की मासिक जनन क्षमता कम होती है. तो इसका मतलब है कि किसी भी महीने में उनके गर्भधारण की संभावना औसत से कम है. उन्हें गर्भवती होने में शायद ज्यादा समय लग सकता है. कुछ दंपत्तियों के मामलों में, गर्भधारण में दो साल तक का समय लगना भी सामान्य है. मगर, यदि आपके साथ ऐसा हो रहा है, तो आपको यह काफी असामान्य लग सकता है.

सप्ताह में एक बार संभोग करना शायद पर्याप्त न हो, वहीं रोजाना सहवास करना ज्यादा हो सकता है. रोजाना संभोग से शुक्राणुओं की गुणवत्ता कम हो सकती है. इसलिए, हर दूसरे या तीसरे दिन प्रेम संबंध बनाने की कोशिश करें. आपने सुना होगा कि डिंबोत्सर्जन के एकदम सही समय का पता होना और उस समय संभोग करना, गर्भधारण में मदद कर सकता है। इस तकनीक में कुछ सच्चाई अवश्य है। आपके गर्भवती होने की संभावना आपके माहवारी चक्र के उन दिनों में ज्यादा होती है, जब आप सर्वाधिक जननक्षम होती हैं.

हालांकि, प्रजनन विशेषज्ञ इससे कुछ अलग सलाह देते हैं. वे डिंबोत्सर्जन के दिनों का पता लगाकर, उसके अनुसार संभोग करने कि इस पेचीदा तकनीक का समर्थन नहीं करते. यह गर्भाधान के आपके प्रयास को जरुरत से ज्यादा तनावपूर्ण बना सकता है. यदि आप हर दूसरे या तीसरे दिन संभोग करें, तो भी गर्भवती होने की आपकी संभावना उतनी ही रहती है, जितनी कि डिंबोत्सर्जन के दिनों में होती है.

घर पर प्रेग्नेंसी टेस्ट कैसे करें जानिए घरेलू उपाय
महिलाएं अपने घर में ही बिना किसी प्रेग्नेंसी किट के ही प्रेग्नेंसी की जांच कर सकती हैं. हालांकि बाज़ार मे बहुत सी ऐसी प्रेग्नेंसी किट मौजूद हैं. जिससे आप अपनी गर्भावस्था की जांच कर सकती हैं, पीरियड्स मिस होने के पहले हफ्ते मे ही प्रेग्नेंसी टेस्ट कर लेना चाहिए क्यूंकी जैसे जैसे दिन आगे बढ़ते जाते हैं. वैसे वैसे आपके एचसीजी हॉरमोन के स्तर मे वृद्धि हो जाती है.

यह भी पढ़ें : सवाल 120 – होटल के स्टाफ आपसे कौन सी बाते छुपाते है

ज़्यादातर सुबह के समय गर्भावस्था हॉरमोन एचसीजी उच्चतम स्तर पर होता है । इसलिए अगर आपको अभी गर्भधारण हुआ है तो आप सुबह के समय परीक्षण करना सबसे अच्छा साबित होता है.