भारत और पाकिस्तान में कश्मीर को लेकर डोनाल्ड ट्रंप ने कहीं कुछ बातें

0
world
भारत और पाकिस्तान में कश्मीर को लेकर डोनाल्ड ट्रंप ने कहीं कुछ बातें

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बार फिर भारत और पाकिस्तान में चल रहें कश्मीर मुद्दे को लेकर अपना बयान दिया है. जिसमें अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा है कि भारत और पाकिस्तान दोनों ही परमाणु देश मेरे बहुत ही अच्छे दोस्त है. दोनों ही कश्मीर को लेकर गहरे संकट में हैं.

इसी के साथ अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि दोनों देशों के मसले को सुलझाने के लिए मैं वह सब करूंगा, जो मै कर सकता हूं, ट्रंप ने कहा कि कश्मीर के मुद्दे पर भारत और पाकिस्तान दोनों देशों के नेताओं से बातचीत की और इस मुद्दे को सुलझाने के लिए कहा है. ट्रंप ने कहा कि कश्मीर के मुद्दे पर भारत और पाकिस्तान दोनों देशों के नेताओं से बातचीत की और इस मुद्दे को सुलझाने के लिए कहा है.

उन्होंने कहा है कि मैंने भारत और पाकिस्तान से कश्मीर के बारे में बातचीत की और जो मैं मदद कर सकता हूं उसके बारे में भी चर्चा की. जो भी में कुछ कर सकता हूं, वह मैं करूंगा. क्योंकि अभी दोनों देश इस मुद्दे को लेकर गहरे संकट में हैं और मै केवल इस मुद्दे को सुलझाना चाहता हूं.

वहीं खबरों के मुताबिक पता चला है कि अमेरिका के 35 सांसदों के एक द्विदलीय समूह ने ट्रंप प्रशासन से कश्मीर पर द्विपक्षीय वार्ता के लिए भारत और पाकिस्तान को प्रोत्साहित करने का आग्रह किया है. जिससे उनके बीच का तनाव कम हो जाए.

इतना ही नहीं भारत सरकार द्वारा कश्मीर में पाबंदियां हटाना शुरू किये जाने की हालिया खबरों से उत्साहित अमेरिकी सांसदों ने संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी दूत केली क्राफ्ट को लिखे खत में कश्मीर क्षेत्र में हाल के दिनों में हुई गतिविधियों और भारत-पाकिस्तान के बीच बढ़ते तनाव पर चिंता जताई है.

यह भी पढ़ें : लव जिहाद व रेप जिहाद, धर्म संकट में

इस पत्र पर 23 सितंबर की तारीख दी है पत्र में लिखा है कि ‘इस क्षेत्र में शांति और स्थिरता बरकरार रखना वैश्विक सुरक्षा का विषय है.’ पत्र पर सांसद जिम बैंक्स, ग्रेग पेंस, सुसेन वाइल्ड, डेविड ट्रोन, एरिक स्वॉलवेल, ग्वेन मूर, जूडी चू, माइक लेविन और रॉन राइट के अलावा अन्य सांसदों के भी हस्ताक्षर हैं.