भारत को विकसित मानना अमेरिका की ‘नीति या साजिस’

donald trump
donald trump

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप इसी माह भारत दौरे पर आने वाले हैं. जिसकी चर्चा जोरों पर है. भारतीय प्रधानमंत्री मोदी जी भी उनके स्वागत के लिए जोरदार तैयारियों में लगे हुए हैं. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा से बिल्कुल पहले संयुक्त राष्ट्र अमेरिका के व्यापार प्रतिनिधि (USTR) ने भारत को विकासशील देश की सूची से बाहर कर भारत को आर्थिक तौर पर बडा झटका दिया है.

इससे भारत का व्यपार सीधे तौर पर प्रभावित होगा. इसका कारण ये है कि अमेरिका में विकासशील देशों को व्यपार में काफी छूट मिलती हैं. लेकिन अब भारत को विकसित देश मानने के बाद भारत को अमेरिका से वो छूट नहीं मिल पाएगीं. शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना के माध्यम में प्रकाशित किया है कि ट्रंप प्रशासन द्वारा भारत आने से पहले भारत को विकसित राष्ट्र मान लिया है.यह भारत के लिए एक बड़ा संकट है। भारत शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार स्वच्छता और गरीबी उन्मूलन जैसे मापदंडों पर विकसित देशों की स्थिति से बहुत दूर है।


इसके साथ ही उम्मीद भी जताई कि हमारे प्रधानमंत्री इसे लेकर एक रास्ता खोज लेंगे. भारत एक विकसित देश नहीं है फिर भी अब यह उन लाभों का अधिक फायदा नहीं उठा सकेगा, जो एक विकासशील राष्ट्र को मिलता है।

यह भी पढ़ें: PM मोदी ने पुर्तगाल के राष्ट्रपति के साथ वार्ता की


24 और 25 फरवरी को ट्रंप भारत की यात्रा पर आने वाले हैं. इससे पहले, अमेरिका ने भारत को विकासशील देशों की सूची से हटा दिया। USTR कार्यालय ने भारत को एक विकसित अर्थव्यवस्था के रूप में वर्गीकृत किया है, जो विकासशील देशों को वाशिंगटन से मिलने वाले लाभों के लिए अयोग्य बनाता है।