‘PM-KISAN’ के लाभार्थियों को किसान क्रेडिट कार्ड से जोड़ने का अभियान शुरू

0
PM-KISAN
PM-KISAN

मोदी सरकार अपने 2022 तक किसानों की आय को दुगनी करने के लक्ष्य पर आगे बढ़ते हुए एक नए अभियान की शुरूआत की. इसके तहत ‘PM-KISAN’ योजना से जुड़े हुए सभी किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) से जोड़ने का अभियान शुरू किया. यह अभियान 10 फरवरी,2020 से 25 फरवरी, 2020 तक जारी रहेगा. राज्‍यों/केन्‍द्र शासित प्रदेशों की सरकारों और बैंकों को पीएम-किसान के उन सभी लाभार्थियों की एक सूची तैयार करने की सलाह दी गई है, जिनके पास KCC नहीं है।

सरकार की तरफ से सभी बैंकों को सलाह दी गई है कि जो किसान ‘PM-KISAN’ के लाभार्थी हैं और वो किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) के आवेदन कर रहे हैं उन पर गौर करने के लिए अलग काउंटर बनाएं और आवेदन जमा करने की तारीख से 14 दिनों के अंदर कम से कम समय में नया KCC करना या मौजूदा KCC सीमा में बढ़ोतरी करना या निष्क्रिय KCC को सक्रिय करने का प्रयास करें.

यह भी पढ़ें: CAA और NRC का कड़वा सच.

‘PM-KISAN’ क्या है ?
भारत सरकार द्बारा एक ‘PM-KISAN के नाम से एक योजना शुरू की गई. इस योजना के अनुसार पात्र लघु सीमांत परिवारों को प्रतिवर्ष 6000 रु. की सहायता आधार से जुड़े बैंक खातों में सीधे 4-4 माह की 3 किस्तों में उपलब्ध करवाई जाएगी. यह योजना 1 दिसंबर , 2018 से लागू की गई.


किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) क्या है ?
किसान क्रेडिट कार्ड को भारतीय बैंकों द्वारा वर्ष 1998 में शुरू किया गया. इसमें किसानों को सस्ती दरों पर लोन मिल जाता है. इससे किसानों को साहूकारों और बड़े जमीदारों के शोषण से छुटकारा मिल जाता है.
किसान क्रेडिट कार्ड से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर click कर आप फार्म Download कर सकतें है.-
https://www.pmkisan.gov.in/Documents/Kcc.pdf