जानियें, बाबा रामदेव ने किस बात पर किया दावा?

0
जानियें, बाब रामदेव ने किस बात पर किया दावा?
जानियें, बाब रामदेव ने किस बात पर किया दावा?

देश के दो बड़े राज्य बाढ़ से ग्रसित है। जी हाँ, हम बात कर रहे है, यूपी और बिहार की। इन दोनों राज्यों में बाढ़ का कहर जारी है। ऐसे में बाबा रामदेव ने एक दावा किया है, उन्होंने क्या दावा किया है, आइये आपको उससे रूबरू कराते है।

खबर के मुताबिक, बाबा रामदेव ने दावा किया है उनकी संस्था यानि पतंजलि ने बाढ़ प्रभावित इलाकों के 16 जिलों में 200 ट्रक से ज्यादा सामाग्री भेजा है। साथ ही बाबा ने यह भी दावा किया है कि बाढ़ से प्रभावित इलाकों में पतंजलि से जुड़े कार्यकर्ता भी राहत काम में लगी हैं। बाबा ने सरकार से अपील करते हुए कहा कि सरकार को कोई ऐसी पॉलिसी बनानी पड़ेगी, जिससे पर्यावरण का भी नुकसान ना हो और लोग भी अपने प्राण न खोएं। आपको बता दें कि बीते कुछ समय से देश के कई हिस्से बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित है। बिहार, पूर्वी उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल और असम में बाढ़ से स्थिति काफी भायनक हो चुकी है। इतना ही नहीं बाढ़ का असर इतना भयानाक है कि केवल बिहार में अब तक 304 लोगों की मौत होने के साथ 18 जिलों की एक करोड 38 लाख 50 हजार आबादी प्रभावित हुई है।

आपको यह भी बता दें कि सरकार के अलावा पतंजलि और ऐसी कई दूसरी स्वयंसेवी संस्थाएं प्रभावित लोगों तक मदद पहुंचाने की कोशिश कर रही है। असम और यूपी में सोमवार को तीन-तीन और लोगों की बाढ़ के कारण जान चली गयी। हालांकि नदियों के जलस्तर में कमी की वजह से पश्चिम बंगाल की स्थिति में सुधार हुआ है। देश के सबसे बड़े राज्य यूपी में बाढ़ से मरने वालों की संख्या बढ़कर 72 हो गयी। इस राज्य के करीब 24 जिलों के 20 लाख से अधिक लोग इस आपदा से प्रभावित हुए हैं। करीब 2,688 गांवों में अभी जलभराव है। सबसे ज्यादा प्रभावित पूर्वी उत्तर प्रदेश के 43 हजार 602 लोग राहत शिविरों में रह रहे है।

राहत बचाव कार्य प्रगति पर

आपको बता दें कि बाढ़ प्रभावित इलाकों में सेना के हेलीकॉप्टर, एनडीआरएफ और पीएसी जवान लगातार राहत और बचाव अभियान में लगे हैं। एनडीआरएफ की 21 कंपनियां, पीएसी की 30 कंपनियां और भारतीय वायु सेना के दो हेलीकाप्टर और सेना के जवान बाढ़ प्रभावित इलाकों में लोगों की जान बचाने के काम में लगे हुए हैं। आपको यह भी बता दें कि नेपाल से लगातार पानी छोड़े जाने और लगातार बारिश के कारण बचाव कार्य और लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाने के काम में बाधा उत्पन्न हो रही है।

बहरहाल, देश के बाढ़ ग्रसित इलाकों में सरकार मदद करने के हर हथकंडे को अपनाती दिख रही है, उम्मीद यही की जाती है कि जल्द ही हालात में सुधार हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

11 + one =