चिन्मयानंद और पीड़िता सहित उसके तीनो दोस्तो की आवाज की होगी जांच

0
24
24

एसआईटी ने चिन्मयानंद, पीड़िता और पीड़िता के तीन दोस्तों की लैब में वॉइस सैंपल लिए जाने की अपील कोर्ट से की थी, और कोर्ट ने सभी आरोपियों के वॉयस सैंपल लेने की अनुमति दे दी है, एसआईटी की अर्जी को मंजूर कर ली गयी है।

लॉ की पढ़ाई कर रही छात्रा ने स्वामी चिन्मयानंद पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था,चिन्मयानंद का छात्रा से मालिश करवाते हुए वीडियो वायरल हुआ था. साथ ही पीड़िता का चिन्मयानंद से 5 करोड़ की रंगदारी मांगने का वीडियो भी वायरल हुआ था, जिसमें पीड़िता और उसके तीन दोस्त वीडियो में दिखाई दे रहे थे।

कोर्ट में चिन्मयानंद और पीड़िता सहित पीड़िता के तीनों दोस्तों ने वीडियो को फर्जी बताकर अपनी आवाज होने से इनकार किया था, जिसके बाद एसआईटी ने सभी आरोपियों की वॉइस सैंपल लेकर लैब में कराने के लिए कोर्ट में अर्जी दाखिल की थी, जिसे आज कोर्ट ने मंजूर कर लिया है. अब एसआईटी किसी भी वक्त स्वामी चिन्मयानंद पीड़िता और पीड़िता के तीन दोस्तों को जेल से निकालकर लखनऊ ले जा सकती है. जहां लैब में सभी के वॉइस सैंपल लिए जाएंगे. वॉयस सैंपल मैच होने पर सभी की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. फिलहाल आरोपियों के वकीलों ने कोर्ट के आदेश को बाद में स्वीकार कर लिया है।