संसद : बाहर हो रही थी नारेबाजी अन्दर कांग्रेस पर भाषण दे रहे थे पीएम मोदी

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगामी लोकसभा चुनाव से पहले संसद में करीब डेढ़ घंटे की स्पीच दी. अपने भाषण के दौरान बहुत से मुद्दों पर बात करते हुये पीएम मोदी ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कांग्रेस की कड़ी निंदा की, जिसके तहत कांग्रेस ने भी मोदी को करारा  जवाब देते हुये अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की है. यही कारण है की पीएम मोदी के भाषण के बीच में जमकर हंगामा हुआ. यहाँ तक कि लोकसभा में विपक्षी दलों ने प्रधानमंत्री मोदी के भाषण से पहले ही नारेबाज़ी शुरू कर दी थी.

प्रधानमंत्री मोदी के भाषण की बड़ी बातें

लोकसभा में प्राधानमंत्री ने अपने भाषण के दौरान कहा आजादी के ७० साल बाद भी किसानों के हालात ठीक नहीं है. किसानों को लेकर खूब राजनीती हो रही है.

उन्होंने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि कांग्रेस ने मां भारती के टुकड़े कर दिए, उनके इस जहर की कीमत पूरा देश चुका रहा है. फिर भी देश कांग्रेस के साथ रहा है. उन्होंने कहा कांग्रेस वासियों को लगता है देश का जन्म १५ अगस्त १९४७ में हुई आज़ादी के वक़्त ही हुआ है. उससे पहले देश था ही नहीं.

पीएम मोदी ने कांग्रेस पर प्रहार करते हुए कहा ‘आप लोकतंत्र की बात करते हैं आपके मुंह से लोकतंत्र की बातें शोभा नहीं देती. लोकतंत्र जवाहरलाल नेहरु जी की देन है लोकतंत्र हमारी परंपरा है. मेरी आवाज़ दबाने की कोशिश नाकाम होगी.’

धारा 356 का ज़िक्र

पीएम मोदी ने कहा विपक्ष ने कई बार धारा ३५६ का दुरूपयोग किया. इस धारा का गलत उपयोग करते हुये कई राज्य को उखाड़ फेंके हैं.

बता दें कि भारतीय संविधान की धारा 356 के अधीन भारत की केंद्र सरकार को, किसी भी राज्य की सरकार को भंग करने का अधिकार है, बशर्ते कि राज्य में सांविधानिक तंत्र विफल हो गया हो. मोदी जी के बयान के मुताबिक अगर कांग्रेस ने जिम्मेदारी के साथ काम किया होता तो इस देश की जनता में सामर्थ्य था कि ये देश आज जहां है इस से कई गुना आगे होता.

हमनें सरकार के काम करने का कल्चर बदला. हमनें सिर्फ परियोजनाएं शुरू कर अखबारों में फोटो नहीं लगवा ली बल्कि परियोजनाएं समय पर पूरी हों इसे भी सुनिश्चित किया. हमारे शासन में ग्रामीण इलाकों को ऑप्टिकल फाइबर से जोड़ा गया. उन्होंने कहा गांधीजी ने यंग इंडिया की बात की, सन्यासी स्वामी विवेकानंद ने नए भारत की बात की. आज हम न्यू इंडिया की बात कर रहे हैं.

2011-2014 के दौरान कांग्रेस सरकार सिर्फ 59 पंचायतों को ऑप्टिकल फाइबर से जोड़ सकी. लेकिन पिछले तीन साल में हमनें एक लाख से अधिक गांवों को ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क से जोड़ा. प्रधानमंत्री आवास योजना आज 4,000 से अधिक शहरों में लागू की जा चुकी है.

पीएम ने रोज़गार के मुद्दों पर टिप्पणी करते हुआ कहा, ‘कोई डॉक्टर बन रहा है, कोई , कोई सीए. इन्होंने अपनी कंपनी बनाई, तमाम लोगों को रोज़गार दिया तो क्या ये रोज़गार नहीं है? इंफॉर्मल सेक्टर में 90 फीसदी रोजगार होता है. आज कई आइएसएस से मैं पूछता हुं तो वे बताते हैं कि उनके बेटे नौकरी नहीं करना चाहते, वे स्टार्टअप शुरू करना चाहते हैं. उन नौजवानों की आकांक्षाओं का हम समर्थन करते हैं.

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी ने की टिप्पणी

जवाब में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी ने मोदीजी के भाषण पर टिप्पणी दी और कहा, “प्रधानमंत्री अपनी स्पीच में फालतू के मुद्दों पर बात कर रहे हैं जिसे कोई सुनना नहीं चाहता. रोज़गार को लेकर तो कोई बातचीत ही नहीं हो रही है. साथ ही राहुल गाँधी ने प्रधानमंत्री द्वारा राफेल विमान सौदे को लेकर कोई बातचीत न करने पर पीएम मोदी की आलोचना की है.किसानों की बात की है पर उनको सही दाम देने की बात नहीं की , न ही किसानों के कर्जमाफी की कोई बात हुई है .

पीएम ने सोनिया गाँधी को जवाब देते हुये कहा कि स्वरोजगार को रोजगार नहीं मानोगे क्या. उन्होंने ये भी बताया कि हमारी सरकार ने बिना गारंटी 10 करोड़ लोन दिए गए और बीच में कोई दलाल नहीं आया.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

sixteen − 3 =