दुल्हन ने मनाई सुहागरात, उसके बाद लोगों की उड़ गई नींद, रातभर करते रहे वो काम

0
Bride
Bride

एक दुल्हन के कितने रूप होते हैं, इसकी एक झलक राजस्थान के एक गांव में मिल गई जहां सुहागरात मनाने के बाद दुल्हन वह खेल खेला कि लोग हैरान हो गए।

बता दें कि राजस्थान में सबसे पढ़ा-लिखा अंचल शेखावाटी दुल्हन खरीद की सबसे बड़ी मंडी बनता जा रहा है और यहां एक मामला सामने आया है। दरअसल, अगस्त 2019 का यह मामला सीकर जिले के धोद थाना इलाके के गांव चंदेलिया के बास सिहोट का है। इसमें सुहागरात मनाकर ही दुल्हन गायब हो गई है। उसकी तलाश में रातभर दो गांवों के लोग जागते रहे।

धोद थानाधिकार महेंद्र के अनुसार चंदेलिया का बास निवासी सागर पुत्र गोपीराम की शादी नहीं हो नहीं हो रही थी। इस बीच सागर का सम्पर्क गोरधन पुत्र मूलचंद निवासी फतेहसिंह की ढाणी व संतोष पुत्र हरिसिंह सादकी व उसकी पत्नी से हुआ। इन्होंने सागर को 40 हजार रुपए में उसकी शादी करवाने की बात कही। सौदा तय होने के बाद आरोपियों ने सागर को जयपुर रेलवे स्टेशन पर यूपी की पूजा नाम की एक युवती से मिलवाया।

चालीस हजार दिए जाने के बाद सागर से पूजा की शादी करवाया दी। सागर अपनी दुल्हन पूजा को लेकर गांव चंदेलिया का बास सिहोट आ गया। सुहागरात में सागर की आंख लग गई। इस बीच मौका पाकर पूजा वहां से भाग गई। कुछ देर बाद सागर को पूजा के भागने का पता चला तो उसने परिजनों को घटना के बारे में जानकारी दी। दुल्हन पूजा के रात को घर से भागने की सूचना देखते ही देखते पूरे गांव में फैल गई।

इसके बाद सागर के परिजन व अन्य ग्रामीण दुल्हन की तलाश में जुट गए। इस बीच पड़ोस के गांव सिहोट में दुल्हन पूजा के होने की जानकारी मिली तो सागर परिजनों व ग्रामीणों के साथ वहां पहुंचा। सागर पूजा को अपने साथ लाने लगा तो उसने साथ मना कर दिया। उसे काफी समझाया पर वह नहीं मानी। इसके बाद सागर ने गोरधन, संतोष व उसकी पत्नी से संपर्क किया। मगर वे घर से गायब हो चुके थे। वहीं दुल्हन पूजा के भाई विजय का भी फोन बंद आ रहा था। तब उन्होंने धोद थाने में दुल्हन और दलालों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया।

ये भी पढ़ें : दुनियाभर में सिर्फ 112 लोग ही करते हैं ये काम, जानिए क्या करना होता है