जाने एक IAS टॉपर की प्रेरणादायक कहानी

0
IAS
जाने एक IAS टॉपर की प्रेरणादायक कहानी

शादी के बाद जिम्मेदारी बढ़ जाती है , भारत में तो अक्सर यह देखा गया है कि घर-गृहस्थी की जिम्मेदारियों महिला के कंधे पर जय्दा होती है। शादी के बाद उनके सपनों की उड़ान कही थम जाती है। आज हम आपको ऐसी महिला के बारे में बताने जा रहे है। जिन्होंने शादी के बाद भी आपने सपने को त्यागा नहीं और आपने आगे बढ़ने की खवाइश को पूरा किया। और इस सफर में काजल जावला उनके पति ने बहुत सहयोग किया। जिसके पति ने साथ दिया तो उसने 28 रैंक पाकर यूपीएससी परीक्षा क्रैक करके आईएएस बन गई. आइए जानें कैसे की थी तैयारी।

मेरठ की रहने वाली काजल बचपन में कभी डॉक्टर बनने का सपना देखती थीं.खबरों के अनुसार उनके टीचर और घर पर उनके पिता जी ने इसके बारे में बताया था. फिर 2012 में वो यूपीएससी की तैयारी के साथ साथ जॉब करने लगीं. आर्थि‍क परिस्थितियों के चलते उनके लिए ये जरूरी था। काजल चार अटेंप्ट में भी यूपीएससी पास नहीं कर पाई. वो कहती हैं कि मैंने नौकरी के साथ वक्त निकालकर लगातार तैयारी की, लेकिन चार बार में सफलता नहीं मिली. लेकिन इसका जब मूल्यांकन किया तो समझ में आया कि इसके पीछे मेरी ही तैयारी में कमी है. साथ ही पति ने भी मेरा हौसला बढ़ाया और कहा कि तुम कर सकती हो।

साल 2016 में उनकी शादी हो गई. उस दौरान उन्होंने तय किया अब उन्हें तैयारी गंभीरता के साथ तैयारी शुरू कर देनी है. तभी जाकर किताबें लाई, पूरा सिलेबस समझा, स्ट्रेटजी तैयार की और पढ़ाई शुरू कर दी. फिर 2016 के बाद 2018 तक लगातार तैयारी की. मेन्स से लेकर इंटरव्यू तक पूरी तैयारी के बाद ही परीक्षा दी।

यह भी पढ़ें : दुनिया की सबसे खूबसूरत महिलाएं है ये

काजल के अनुसार शादी के बारे में लोग सोचते हैं कि शादी मतलब परेशानियां और मुश्किल. लेकिन उनके पति से बहुत सहयोग मिला. वह घर पहुंचती थी, इससे पहले पति आ जाते थे, वो घर का सारा काम करते थे. वो जब घर आती थी वो पहले से कुकिंग करके रखते थे, वो बस आके चपाती बनाती थी. उसके बाद रिलैक्स करती थी, जॉब के साथ साथ घर का पूरा काम उन्होंने देखा। उनकी कहानी काफी ही इंस्पिरेशनल है , लोगो के लिए मिसाल है।