गरीबी से उठकर बना इनकम टैक्स इंस्पेक्टर

0
MOTIVATIONAL
MOTIVATIONAL

आज हम आपको एक प्रेरणात्मक कहानी बताने जा रहे है जिसे सुनकर आप भी प्रेरित हो जायेगे। कैसे एक गरीब घर का लड़का अपनी मेहनत और धेयै से एक इनकम टैक्स इंस्पेक्टर के पद को पता है। चलिए जानते है इस मेहनती युवा की इनकम टैक्स इंस्पेक्टर बनाने की कहानी। अमित नैनावत नामक ने SSC CGL (कंबाइंड ग्रेजुएट लेवल) पास कर इनकम टैक्स इंस्पेक्टर का पद हासिल किया।

अमित नैनानत जयपुर के निवासी है और अभी फिलाल में बीकानेर, राजस्थान में इनकम टैक्स इंस्पेक्टर के पद पर कार्यरत हैं. अमित को पहले पता ही नहीं था की उन्हें क्या करना है ? वो भविष्य में क्या करेंगे। लेकिन उनकी किस्मत में कुछ और लिखा था।

अमित ने इंजीनियरिंग की थी। उनका पढ़ाई में मन नहीं लगता था और वो एक एवरेज स्टूडेंट थे एग्जाम में सिर्फ पास होना मायने रखता थ। उन्होंने हालत यह थी की उनकी इंजीनियरिंग में बैक आगई थी। जब उनकी बैक आयी तो उनका मज़ाक उड़ाने जाने लगा। उनके पापा ने उनसे सारी उम्मीदें छोड़ दी थी। उनके घर वाले उनसे अचे से बात नहीं करते थे मुँह फेर लेते थे।

पढ़ाई की टेंशन और घरवालों का ऐसा बर्ताव, इस चीज से उनपर पर बुरा असर पड़ा, उन्हें नशे की तलब लग गई। शराब और सिगरेट तो जैसे रोज का काम होता था. ऐसे में किसी ने नहीं सोचा था कि वो SSC-CGL की पढ़ाई करेगा। लेकिन उस दौरान घर की आर्थिक स्थिति काफी खराब हो गई थी. इतनी खराब कि घर का खर्चा चलाने के लिए पिताजी को दोस्तों और रिश्तेदारों से उधार मांगना पड़ रहा था।

अमित अपने बैच का अकेला ऐसा स्टूडेंट था. जिसके पास लैपटॉप नहीं था. वो गरीबी में जी रहा था. एक बार उनके पिताजी ने मुझे बुलाया और समझाया कि कितनी मुश्किल से उन्होंने अपने बच्चों को पढ़ाया है. ऐसे में उनके अंदर इतना हुनर है, फिर भी खुद को बर्बाद कर रहे हो, फिर उन्होंने सोच लिया की जीवन में कुछ करना है। अमित घर की आर्थिक स्थिति इतनी खराब थी कि रोजाना 10 रुपये मिलते थे. जो कॉलेज आने-जाने के किराए में चले जाते. जिसके बाद उन्होंने ठान लिया था कि अपनी घर की स्थिति ठीक करनी है।

यह भी पढ़ें : सरकारी कर्मचरियों को मोदी सरकार का नया तोहफा

जुनून इतना था पढ़ाई कि सपने में उन्हें SSC की और लगाये। जिसके बाद ढाई महीने की तैयारी में अपने पहले ही प्रयास में SSC की परीक्षा को क्लियर किया है और इनकम टैक्स इंस्पेक्टर बना गया। अमित की इस मोटिवेशनल स्टोरी ने यह साबित करदिया की अगर किसी चीज़ का जुनून हो तो कुछ भी हासिल करना नामुमकिन नहीं।