नोटबंदी और जीएसटी लागू करना सरकार का ख़राब निर्णय था: रघुराम राजन

0

आरबीआई के पूर्व गर्वनर रघुराम राजन नें कहा है की नोटबंदी और जीएसटी से अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचा है। राजन नें कहा है की जिस वक्त दुनिया की अर्थव्यवस्था रफ्तार पकड़ रही थी उस वक्त भारत नें अपनी अर्थव्यवस्था में रफ्तार पकडने की बजाए नोटबंदी और जीएसटी लागू कर दिया। जो की एक ग़लत निर्णय था। जीएसटी और नोटबंदी के लागू होने से भारतीय अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचा है।

अर्थव्यवस्था के सामने तीन चुनौतियां है

आरबीआई गर्वनर राजन नें कहा है की इस वक्त भारतीय अर्थव्यवस्था के सामने तीन चुनौतियां है। किसानों की ख़राब हालत, पावर सेक्टर की समस्या और बैंकिग संकट। इन तीनों परेशानियों नें भारतीय अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुँचा रखा है। भारत को इन चुनौतियों से निपटने की जरुरत है। राजन नें आरबीआई की स्वतंत्रता को लेकर भी बयान दिया है। उन्होंने कहा की सरकार को आरबीआई को स्वतंत्र रुप से काम करने देना चाहिए। सरकार को आरबीआई में दख़ल नहीं देना चाहिए।

बेरोजगारी गंभीर समस्या

रघुराम राजन नें बेरोजगारी को भारत की गंभीर समस्या बताया है, उन्होंने कहा की रेलवे में 90 हज़ार नौकरियों के लिए ढाई करोड़ से ज्यादा आवेदन आए है। इससे साफ़ जाहिर होता है की बेरोजगारी की कितनी ख़राब समस्या इस वक्त भारत में बनी हुई है।